आरएसएस पर्ट

कानपुर, जेएनएन। कोरोना की दूसरी लहर कितनी खतरनाक है यह शहर में रोजाना आने वाले संक्रमित मरीजों के आंकड़े बता रहे हैं। ऐेसे में एक जगह इकट्ठा होना, एक दूसरे से सटकर बात करना व बेवजह सड़क पर घूमना खतरे से खाली नहीं है। इन सबके बावजूद डिग्री कॉलेज खुले हुए हैं। वहां पर ऑफलाइन कक्षाएं लगाई जा रही हैं। इससे होने वाले खतरे को देखते हुए शिक्षक संघ ने विश्वविद्यालय प्रशासन से 30 मार्च तक ऑनलाइन कक्षाएं लगाए जाने की मांग की है। कानपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ च्कूटाज् के अध्यक्ष डॉ. बीडी पांडेय ने इस संबंध में कुलसचिव डॉ. अनिल कुमार यादव से संपर्क किया।

दोषी कार्यकर्ताओं का बचाव नहीं करेंगे : माकपा

कन्नूर,16मई::कन्नूरजिलेमेंहालहीमेंआरएसएसकेएककार्यकर्ताकीहत्याकेमामलेमेंअगरमाकपाकाकोईकार्यकर्ताशामिलपायागयातोपार्टीउसकाबच

पर्यावरण को संरक्षित रखना सबका दायित्व : अमरन

मधुबनी।हिदूफाउंडेशनएवंसेवाऔरआरएसएसकेपर्यावरणसंरक्षणगतिविधिकेतत्वावधानमेंप्रात:दसबजेसेपूरेजिलामेंप्रकृतिपूजन-वंदनकियागया।