सऊद क सेक्स वडय

जागरण संवाददाता, नोएडा : आज भी ट्रांसजेंडर शब्द सुनते ही अधिकतर लोग उन्हें केवल एक किन्नर, ताली बजाकर भीख मांगने वाले या सेक्स वर्कर्स के तौर पर ही देखते हैं। इससे समाज में उन्हें कभी भी वह सम्मान नहीं मिला पाता, जिसके वे हकदार हैं। लंबे समय तक अपने साथ हुए बुरे बर्ताव को सहने के बावजूद सेक्टर-74 स्थित सुपरटेक केपटाउन सोसायटी निवासी ट्रांसजेंडर उरूज हुसैन ने मिसाल पेश की है। बिहार के एक छोटे से कस्बे से नाता रखने वाली समाजसेवी व रेस्टोरेंट की मालिक उरूज आज नई ऊंचाइयां छू रही हैं। कार्यस्थलों पर उत्पीड़न का सामना करने के बाद उन्होंने सेक्टर-119 में स्ट्रीट टेंपटेशन नाम का एक रेस्त्रां खोला है। यह जिले का पहला ऐसा रेस्तरा है, जिसका संचालन एक ट्रांसजेंडर कर रही हैं। यहां सभी के साथ समान व्यवहार होता है। साथ ही समुदाय के दूसरे लोगों को भी ऐसा करने को प्रोत्साहित कर रही हैं। कैफे भारतीय-चीनी भोजन परोसता है। यह कैफे सभी के लिए है उत्पीड़न से मुक्त:

सेक्स प्रोडक्ट बेचकर ये 5 महिलाएं बनीं करोड़प

नईदिल्ली,24सितंबर।भारतमेंसेक्सयाउससेसंबंधितबीमारियोंकेबारेमेंजाननेकेलिएयुवाओंकोगूगलकासहारालेनापड़ताहै।लोगक्याकहेंगे,इसडर