20 दिन में ग्रामीण क्षेत्रों में मिले 2310 संक्रमित

जागरणसंवाददाता,उन्नाव:कोरोनाकाहमलाग्रामीणक्षेत्रोंमेंहरदिनबढ़रहाहै।जांचरिपोर्टकेआकड़ोंकीमानीजाएतोशहरसेडेढ़गुनाअधिककोरोनापॉजिटिवमरीजगांवोंमेंमिलरहेहैं।गांवोंमेंहोमआइसोलेटकराएजारहेमरीजोंकापुरसाहालनहींहै।डॉक्टरकीटीमकांटेक्टट्रेसिगकरानेकेबादउनकीसुधनहींलेती।इससेतमामहोमआइसोलेटसंक्रमितभीधूमाकरतेहैंजिससेसंक्रमणफैलनेकाखतराऔरबढ़जाताहै।कोरोनासंक्रमितकेआंकड़ोंकोदेखाजाएतोमईमाहकेबीसदिनोंमेंसबसेअधिकग्रामीणक्षेत्रोंमें2310कोरोनापॉजिटिवमिले,जबकिउन्नावऔरशुक्लागंजमेंमिलाकर869कोरोनासंक्रमितमिलेहैं।सबसेखासबातयहहैकिगांवोंमेंअबभीइलाजकामाकूलप्रबंधनहींहैं।

सीएचसी-पीएचसीमेंनहींहुईबेडकीव्यवस्था

-ग्रामीणक्षेत्रोंकेमरीजोंकाप्राथमिकउपचारकरनेखासकरऑक्सीजनलेवलकमहोनेपरआनेवालेमरीजोंकेलिए10-10औरऑक्सीजनसिलिडरकाप्रबंधकरनेकाआदेशएकसप्ताहपूर्वजारीकियागयाथा।लेकिनअबतकएकभीअस्पतालमेंइसकाप्रबंधनहींहुआहै।

37न्यूपीएचसीपरताला

-जिलेमें42नयाप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रहैंओपीडीबंदकरनेकाआदेशहोनेकेबादसेइनमेंतालालटकरहाहै।इससेसामान्यजुकाम,बुखारकीदवालेनेकेलिएभीमरीजोंकोब्लाकअस्पतालोंकेपासजानापड़ताहै।

-शासननेओपीडीबंदकरनेकाआदेशदियाहै।नयाप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रोंमेंओपीडीहीचलतीहैइससेवहांकेडॉक्टरोंकोकोविडकार्योंमेंलगारखाहै।ब्लाकअस्पतालोंमेंचौबीसघंटेइमरजेंसीचलरहीहै,जहांसेमरीजदवालेसकतेहैं।गांवोंमेंटीमभेजसर्वेकरादवाकिटकावितरणकियाजारहाहै।

-डॉ.एकेरावत,एसीएमओकार्यकारीसीएमओ