आज का इतिहास: डॉ. भीमराव आंबेडकर को मिला था मरणोपरांत 'भारत रत्न', जानें 31 मार्च की अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं

नईदिल्ली:देशकेसंविधाननिर्माताडॉभीमरावआंबेडकरको31मार्च1990कोमरणोपरांतसर्वोच्चनागरिकसम्मान‘भारतरत्न’सेसम्मानितकरकेदेशऔरसमाजकेप्रतिउनकेअमूल्ययोगदानकोनमनकियागया।देश-दुनियाकेइतिहासमें31मार्चकीतारीखपरदर्जअन्यमहत्वपूर्णघटनाओंकासिलसिलेवारब्योराइसप्रकारहै:-1504:सिखोंकेगुरुअंगददेवजीकाजन्म।वहगुरूनानकदेवजीकेबादसिखोंकेदूसरेगुरूथे।1727:दुनियाकेमहानभौतिकशास्त्रियोंमेंशुमारआइजैकन्यूटनका84वर्षकीआयुमेंलंदनमेंनिधन।1870:अमेरिकामेंपहलीबारकिसीअश्वेतनागरिकनेवोटदिया।अश्वेतोंकोसमानअधिकारदिलानेकीदिशामेंयहएकबड़ीकामयाबीथी।1921:भारतीयराष्ट्रीयकांग्रेसकेझंडेकोअंगीकारकियागया।1959:तिब्बतीधर्मगुरुदलाईलामाअपने20शिष्योंकेसाथभारतकीसीमामेंपहुंचे।वह17मार्चकोतिब्बतकीराजधानील्हासासेपैदलरवानाहुएथेऔरखेनज़ीमनदर्रेसेहोतेहुएसकुशलभारतपहुंचगए।1964:बम्बई(अबमुंबई)मेंबिजलीसेचलनेवालीट्रामकोबंदकियागया।1980:अमेरिकाकेमहानफर्राटाधावकजेसीओवंसकानिधन।ओवंसने1936केबर्लिनओलंपिकखेलोंमेंअपनेदेशकेलिएचारस्वर्णपदकजीतेथे।1981:एकघरेलूविमानकाअपहरणकरनेवालेइंडोनेशियाकेपांचआतंकवादियोंमेंसेचारथाइलैंडकेबैंकाकमेंमारेगये।विमानमेंसवारसभी55लोगसुरक्षित।आतंकवादियोंनेइंडोनेशियाकीजेलोंमेंबंद80लोगोंकोरिहाकरानेकेलिए28मार्चकोविमानकाअपहरणकियाथाऔरउसेबैंकाकलेगएथे।1983:कोलम्बियामेंभूकंपसेलगभग5,000लोगोंकीमौत।1990:संविधाननिर्माताडॉ.भीमरावआंबेडकरकोसर्वोच्चनागरिकसम्मान‘भारतरत्न’सेमरणोपरांतसम्मानितकियागया।2004:अर्जेंटीनाकेब्यूनसआयर्समेंएकनाइटक्लबमेंआगलगनेसे175लोगोंकीमौत।