आसरा आवास सूची में अपात्रों की भरमार

बस्ती:आसराआवासयोजनामेंजमकरधांधलीहुई।चयनप्रक्रियामेंमानककोदरकिनारकरअपात्रोंकाचयनकरलियागया।विभागचयनितअपात्रोंकोघरकीचाभीभीसौंपनेकीतैयारीमेंथा।तभीक्षेत्रीयविधायकअजयसिंहनेचयनसूचीपरएतराजजतादिया।तबजाकरआवंटनप्रक्रियारोकदेनीपड़ी।जांचशुरूहुईतोमहाराष्ट्रकेएकस्वर्णव्यवसायीकानामपात्रतासूचीमेंमिलतेहीहड़कंपमचगया।

शहरीक्षेत्रमेंबिनाजमीनऔरमकानकेरहनेवालेनिराश्रितोंकोछतमुहैयाकरानेकेलिएआसरायोजनाचलाईगईहै।इसकेतहतनगरपंचायतहर्रैयामेंआवासीयभवनबनकरतैयारहुआ।लेकिनजबपात्रोंकेचयनकीबारीआईतोजिम्मेदारोंनेखूबमनमानीकी।चयनितलाभार्थियोंकीसूचीमें37लोगशामिलकिएगए।विधायककाआरोपहैकिचयनितसूचीमें20लोगअपात्रशामिलकिएगएहैं।उन्होंनेआवासआवंटनकेलिएआयोजितसमारोहमेंशामिलहोनेतकसेमनाकरदिया।इसकेबादउच्चाधिकारियोंनेजांचशुरूकराई।पताचलाएकलाभार्थीमहाराष्ट्रकाहै।वहयहांआकरसोनेचांदीकाव्यापारकरताहै।उसकेनामआवासआवंटितहोगया।कुछऐसेभीलोगपात्रबनाएगएहैंजिनकेपासपक्कामकानपहलेसेहैं।विधायकनेअपात्रोंकानामभीउच्चाधिकारियोंकोसौंपाहै।फिलहालपूरीचयनप्रक्रियाजांचकेघेरेमेंउलझगईहै।जिससेवास्तविकलाभार्थीभीआवाससेफिलहालवंचितहैं।ज्वाइंटमजिस्ट्रेटप्रेमप्रकाशमीणासेइनकेपात्रताकीजांचकरानेकीमांगगईहै।जिसपरउन्होंनेईओअनुपममिश्रकोजांचटीमगठितकरनेकेनिर्देशदिएहै।

अनुपममिश्र,प्रभारीईओनेबतायाकिचयनितलाभार्थियोंकीसूचीपूर्वकेअधिकारीनेअनुमोदितकियाथा।असलियतजांचपूरीहोनेकेबादहीपताचलेगा।राजस्वविभागऔरनगरपंचायतकीसंयुक्तटीमगठितकरदीगईहै।