अब विधानसभा चुनाव की तैयारी में भाजपा, शक्ति केंद्रों से मिलेगी विपक्षियों को चुनौती

गोरखपुर,जागरणसंवाददाता।पंचायतचुनावकीशानदारसफलतासेउत्साहितभाजपानेअबविधानसभाचुनावकोलेकरमिशनमोडमेेंतैयारीशुरूकरदीहै।बीतेविसचुनावकेमुकाबलेबदलीपरिस्थितियोंकोध्यानमेंरखतेहुएचुनावीरणनीतिबनाईजारहीहै।सत्ताधारीपार्टीकेतौरपरइसबारमिलनेवालीचुनावीचुनौतीसेपारपानेकोलेकरशीर्षनेतालगातारमाथापच्चीकररहेहैं।चुनावकेलिएपार्टीकीओरसेबनाईजारहीरणनीतिमेंइसकीझलकसाफदिखरहीहै।विपक्षियोंकोशक्तिकेंद्रोंसेचुनौतीदेनेकानिर्णयइसीमाथापच्चीकापरिणामहै।

शक्तिकेंद्रद्वाराहोगाबूथसमितियोंकागठन

शक्तिकेंद्रपार्टीकाकोईनयाकान्सेप्टनहींहै।पार्टीनेताओंनेचुनावकीवर्तमानपरिस्थितियोंकोदेखतेहुएवर्षोंकेअंतरालकेइसेअपनेपिटारेसेनिकालाहै।यहकेंद्रसेक्टरकास्थानलेंगे,जिससेबूथकोताकतदेनेकाकामकियाजाएगा।शक्तिकेंद्रोंकोमजबूतकरनेकीजिम्मेदारीकेंद्रप्रभारियोंकीहोगी।मंडलअध्यक्षोंऔरमहामंत्रियोंकीमददसेबूथसमितियोंकागठनऔरउनकासत्यापनशक्तिकेंद्रद्वाराकियाजाएगा।इनकेंद्रोंपरभाजपाके'बूथजीतातोचुनावजीतास्लोगनकोधरातलपरउतारनेकादायित्वहोगा।शक्तिकेंद्रमंडलऔरबूथकेबीचकीकड़ीहोंगे।एकशक्तिकेंद्रकेजिम्मेचारसेपांचबूथोंकोमजबूतकरनेकाजिम्माहोगा।मंडलअध्यक्षकेंद्रोंकीकार्यप्रणालीकीमानीटरिंगकरेंगेऔरउनकेकामकाफीडबैकऊपरकेनेताओंकोदेंगे।बीतेदिनोंप्रदेशकार्यकारिणीकीबैठकमेंभाजपाकेमहामंत्रीसंगठनसुनीलबंसलनेशक्तिकेंद्रोंकीजिम्मेदारीसेपार्टीपदाधिकारियोंकोअवगतकरायाऔरचुनावकोदेखतेहुएकेंद्रोंकीलिएपार्टीकीओरसेतयकीगईकार्ययोजनाकीजानकारीदी।कार्ययोजनाकेमुताबिकशक्तिकेंद्रकेसंयोजकनौसे15अगस्तकेबीचबूथसमितियोंकापुनर्गठनऔरउसकेबाद15अगस्तसेउनकासत्यापनसुनिश्चितकरेंगे।

बड़ोंकोभीमिलेगीशक्तिकेंद्रोंकीजिम्मेदारी

इसबारकेचुनावमेंशक्तिकेंद्रोंकीभूमिकाकितनीमहत्वपूर्णहोगी,इसकाअंदाजाइसबातसेलगायाजासकताहैकिपार्टीचुनावकरीबआनेपरइसकीजिम्मेदारीबड़ेपदाधिकारियोंऔरजनप्रतिनिधियोंकोभीदेनेपरविचारकररहीहै।पार्टीसूत्रोंकेमुताबिकशक्तिकेंद्रकेदायरेमेंआनेवालेक्षेत्रोंमेंनिवासकरनेवालेपदाधिकारीऔरजनप्रतिनिधिकोउससेजोड़ाजाएगा।

इसकेबारवोटोंकोसहेजनेपरजोर

2017केविधानसभाचुनावमेंभाजपानेवोटोंकोहासिलकरनेकेलिएआक्रामकरवैयाअख्तियारकियाथा।ऐसाइसलिएउसबारपार्टीकीसूचीमेंकमजोरबूथोंकीतादादज्यादाथी।परइसबारपरिस्थितियोंअलगहै।सत्तामेंआनेकेबादबूथोंपरपार्टीकीसाखबढ़़ीहै।ऐसेमेंइसबारपदाधिकािरयोंऔरकार्यकर्ताओंकोपार्टीनेबूथोंकोसहेजनेकाकामसौंपाहै।पार्टीकामाननाहैकिबूथोंपरउनकेवोटतोहैं,जरूरतउनवोटोंकोमतदानकेद्रोंतकपहुंचानेमात्रकीहै।