अमेरिकी नौसेना भारत-एशिया प्रशांत क्षेत्र में 60 फीसदी पोत रखेगी

पणजीअमेरिकीनौसेनाने2019तकभारत-एशियाप्रशांतक्षेत्रमेंअपने60फीसदीसतहपोतकोतैनातकरनेकालक्ष्यरखाहैजोआतंकवादकेखिलाफलड़ाईसहितअलग-अलगमिशनोंकोपूराकरेंगे।अमेरिकीनौसेनाकेसातवेंबेड़ेकेकमांडरवाइसऐडमिरलजोसफपी.अकोइननेसंवाददाताओंसेकहा,'भारत-एशियाप्रशांतक्षेत्रमेंअमेरिकीपनडुब्बीका60फीसदीहिस्सापहलेसेहै।अमेरिकाके60फीसदीसतहपोतोंको2019तकक्षेत्रमेंतैनातकरनेकालक्ष्यहै।'वहअमेरिकीनौसेनाकेपोत'ब्ल्यूरिज'परसंवाददाताओंसेबातकररहेथेजोवर्तमानमेंमोर्मुगावबंदरगाहपररुकाहुआहै।अकोइननेकहाकि10-15औरअमेरिकीसतहपोततैनातकरदेनेसेयहसंख्या60फीसदीहोजाएगी।यहकेवलपोतोंकीसंख्याकेबारेमेंनहींहैबल्किक्षेत्रमेंबेहतरीनपोततैनातकिएजारहेहैं।उन्होंनेकहाकिक्षेत्रमेंअमेरिकाऔरभारतकेतीनसाझामिशनहैंआतंकवादनिरोधक,समुद्रीसुरक्षाऔरआपदाकेदौरानमानवीयसहायता।वाइसऐडमिरलनेकहा,'समुद्रीरास्तेसेव्यवसायकेलिएसमुद्रीसुरक्षामहत्वपूर्णहै।कुलव्यवसायकाकरीब90फीसदीसमुद्रकेरास्तेहोताहै।हमभारतऔरदक्षिणएवंपूर्वएशियाईदेशोंकेसाथमिलकरकामकररहेहैं।'अकोइननेकहाकिभारतदौरेकेसमयवहअपनेभारतीयसमकक्षसेमुलाकातकरइसवर्षजूनमेंहोनेवालेमालाबारनौसेनाअभ्यासपरचर्चाकरेंगे।इसस्टोरीकोइंग्लिशमेंपढ़ें:60%ofUSNavytobeinIndo-Asia-Pacific