अमन हत्याकांड: पिता ने कहा- जब तक न्याय नहीं, तब तक अस्थि विसर्जन नहीं, अनशन की दी चेतावनी

बांदा,जागरणसंवाददाता।अमनहत्याकांडकामामलाअभीशांतनहींहुआहै।दिवांगतछात्रकेपितानेजहांन्यायिकवसीबीआइजांचकीमांगकीहै।वहींन्यायपानेकेलिएमंगलवारसेपुत्रकीअस्थियोंकेसाथउन्होंनेपरिवारसहितअनशनमेंबैठनेकीचेतावनीदीहै।

शहरकोतवालीक्षेत्रकेमुहल्लाबंगालीपुरानिवासीदिवांगतछात्रअमनत्रिपाठीकेपितासंजयनेस्वजनकेसाथजाकरडीएमकार्यालयमेंशिकायतीपत्रदियाहै।जिसमेंउसनेबतायाकि11अक्टूबरकोउनकेपुत्रकीहत्याकरदीगईथी।उन्होंने12अक्टूबरकोकोतवालीमेंरिपोर्टदर्जकराईथी।जांचदोबाराहमीरपुरक्राइमब्रांचकोसौंपीगईथी। डाक्टरकीपोस्टमार्टमरिपोर्टवमेडिकोलीगलसेलकीजांचमेंबदलावकरलीपापीतीकरनेकाआरोपलगायाहै।उन्होंनेयहभीबतायाकिइसकीआशंकावहपहलेसेजाहिर करचुकेथे।वहइसजांचसेआहतहोनेकेसाथसंतुष्टनहींहैं।उनकेपुत्रकीसुनियोजितढंगसेहत्याकीगईहै।जिसमेंपुलिसप्रशासनवप्रभावशालीलोगोंकीसंंलिप्ततासाफनजरआरहीहै।उनकेपुत्रअमनकीहत्याकेमामलेमेंन्यायदिलायाजाए।मंगलवारसेवहपूरेपरिवारसहितपुत्रकीअस्थियांलेकरअशोकलाटकेपासअनशनमेंबैठनेकोबाध्यहूं।इसीबीचयदिकिसीतरहकीघटनावदुर्घटनाहोतीहैतोउसकेलिएशासनवप्रशासनखुदजिम्मेदारहोगा।जबतकन्यायनहींतबतकअस्थिविसर्जननहीं।