बच्चों के सर्वागीण विकास में पढ़ाई के साथ कला भी जरूरी

पूर्णिया।डॉनबोस्कोस्कूलमेंशनिवारको11वांरेक्टरएंडपेरेंट्सडेउत्सवकाआयोजनकियागया।उत्सवमेंशामिलमुख्यअतिथिउपमहापौरविभाकुमारीनेदीपप्रज्ज्वल्तिकरकार्यक्रमकाउद्घाटनकिया।

अपनेसंबोधनमेंउन्होंनेकहाकिमुझेखुशीहैकिइसविद्यालयकोसीबीएसईनईदिल्लीसेदसवींतककीमान्यता2017मेंहीमिलचुकीहै।गर्वहैकिमेरेवार्डक्षेत्रमेंभीविद्यालयकीदूसरीयूनिटशिक्षाकेक्षेत्रमेंनितआगेबढ़रहाहै।उन्होंनेकहाकिबच्चोंकेसर्वागीणविकासमेंअध्ययन-अध्यापनकेसाथकलासंस्कृतिकाभीबहुतमहत्वहै।आजमंचपरछात्र-छात्राओंद्वाराजोरंगारंगकार्यक्रमकीप्रस्तुतिहुईवहबहुआयामी,रोचकऔरप्रेरणादायकहै।यहाकेगुणवानऔरमेधावीशिक्षक-शिक्षिकाओंद्वाराकलासंस्कृतिकोविकसितकरनेकासराहनीयप्रयासकियाजारहाहै।यहीबच्चेआगेचलकरनृत्य,संगीतऔरनाटकजैसेकलाकेक्षेत्रमेंआगेबढ़ेयहीहमारीशुभकामनाहै।उन्होंनेछात्र-छात्राओंसेअपीलकरतेहुएकहाकिअपनेजीवनमेंशैक्षणिकक्षेत्रकेअलावाएवंकलासंस्कृतिमेंखूबआगेबढ़े।विद्यालयसेलेकरराज्यस्तरऔरफिरराष्ट्रीयस्तरतकअपनेमाता-पिता,गुरुजनोंतथापूर्णियाकानामरोशनकरें।इसमौकेपरवार्डपार्षदसरिताराय,अर्जुनसिंह,विद्यालयकेशिक्षक-शिक्षिका,अभिभावकगणएवंसहितअन्यलोगमौजूदथे।