बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय नीतीश कुमार की जदयू में शामिल

पटना,27सितंबर(पीटीआई)बिहारकेपूर्वपुलिसमहानिदेशक(डीजीपी)गुप्तेश्वरपांडेयमुख्यमंत्रीनीतीशकुमारकीअध्यक्षतावालेजनतादलयुनाइटेड(जदयू)मेंरविवारकोशामिलहोगए।यहांमुख्यमंत्रीआवासरविवारकोपहुंचेपांडेयकोजदयूकेराष्ट्रीयअध्यक्षनीतीशकुमारनेबिहारविधानसभाअध्यक्षविजयकुमारचौधरी,पार्टीकेसांसदएवंपूर्वप्रदेशअध्यक्षराजीवरंजनसिंहउर्फललनसिंह,नवनियुक्तपार्टीकेप्रदेशकार्यकारीअध्यक्षएवंराज्यकेमंत्रीअशोकचौधरीऔरबिहारविधानपरिषदसदस्यसंजयगांधीकीउपस्थितिमेंजदयूकीप्राथमिकसदस्यतादिलायी।बादमेंयहांपार्टीकेप्रदेशमुख्यालयमेंललनसिंहऔरअशोकचौधरीकेसाथसंवाददाताओंसेबातचीतकरतेहुएपांडेयनेकहाकिवहशुरूसेनीतीशजीप्रभावितरहेहैंऔरउनकेनेतृत्वमेंपार्टीकीप्राथमिकसदस्यताग्रहणकरनेकेबादअबआगेदलकेनेताकाजोआदेशहोगाउसकेहिसाबसेकामकरूंगा।यहपूछेजानेकिक्यावहचुनावलडेंगे,पांडेयनेकहा,‘‘चुनावलडनेयानलडनेकेबारेमेंमैंनिर्णयनहींलेसकता।दलफैसलाकरेगाकिवहकिसतरहसेमेरीसेवालेनाचाहताहै।अबमैंदलकाअनुशासितसिपाहीहूं।दलऔरनेताकाजोआदेशहोगाउसीहिसाबसेमैंकामकरूंगा।’’जदयूमेंशामिलकिएजानेकेबादपूर्वपुलिसप्रमुखकीपार्टीमेंक्याभूमिकाहोगी,इसबारेमेंपूछेजानेपरललननेकहा,‘‘अभीतकतोइन्होंनेकोईबायोडाटादियानहींहै।पार्टीमेंतोहमलोगबायोडाटामांगरहेहैंऐसेमेंअभीचुनावलडनेकासवालकियाजानासहीनहींहै।’’पांडेयनेशनिवारकोजदयूकेप्रदेशमुख्यालयजाकरमुख्यमंत्रीसेमुलाकातकरनेकेबादकहाथाकिउनकीनीतीशसेकोईराजनीतिकबातनहींहुई।उन्होंनेकहाथाकिवहउनकोधन्यवाददेनेआयेथेकिउन्होंनेउन्हेंपूरीस्वतंत्रताकाम:पुलिसमहानिदेशककेपदरहनेकेदौरानदायित्वोंकेनिर्वहनमें:करनेकीदी।यहपूछेजानेपरकिवहजदयूमेंकबशामिलहोनेवालेहैं,उन्होंनेकहाथाकिउन्होंनेचुनावलडनेकेबारेमेंअभीकोईफैसलानहींकियाहै।पांडेयनेकहाथाकिअगरवेकिसीभीराजनीतिकदलमेंशामिलहोनेकाफैसलाकरतेहैंतोसभीकोअवगतकरेंगे।पांडेयकेअपनेपैतृकजिलेबक्सरसेबिहारविधानसभाचुनावलडनेकीअटकलेंलगायीजारहीहैं।मीडियाकेएकवर्गकीरिपोर्टोंमेंयहभीकहागयाहैकिवहल्मीकिनगरलोकसभासीटकेलिएहोनेवालेउपचुनावमेंअपनाभाग्यआजमासकतेहैं।निवर्तमानजदयूसांसदबैद्यनाथमहतोकेनिधनसेयहसीटखालीहुईथी।गुप्तेश्वरनेफरवरी2021मेंअपनीनिर्धारितसेवानिवृतिसेपहलेहीमंगलवारकोपुलिससेवासेएच्छिकसेवानिवृति:वीआरएस:लेली।22सितंबरकीदेरशामराज्यकेगृहविभागद्वाराजारीएकअधिसूचनाकेअनुसारवीआरएसकेलिएउनकेअनुरोधकोराज्यपालफागूचौहाननेमंजूरीदेदीथी।सोशलमीडियापर"मेरीकहनीमेरीजुबानी"केशीर्षककेतहतलोगोंकेसाथबातचीतकरतेहुएपांडेयने23सितंबरकोकहा,‘‘अगरमौकामिलाऔरइसयोग्यसमझागयाकिमुझेराजनीतिमेंआनाचाहिएतोमैंआसकताहूंलेकिनहमारेवेलोगनिर्णयकरेंगेजोहमारीमिट्टीकेहैं,बिहारकीजनताहैऔरउसमेंपहलाहकतोबक्सरकेलोगोंकाहैजहांमैंपला—बढाहूं।''गुप्तेश्वरनेलोकसभाचुनावलड़नेकेलिए2009मेंसेवासेइस्तीफादेदियाथापरराज्यसरकारनेउनकेइस्तीफेकोनामंजूरकरतेहुएकुछमहीनेबादउन्हेंसेवामेंवापसलेलियाथा।