बिहार में जल स्रोतों की गुणवत्‍ता की जांच का दायरा बढ़ा, ये सभी जिले हैं लिस्‍ट में शामिल

पटना,राज्यब्यूरो।BiharNews:गुणवत्ताप्रभावितइलाकेमेंपेयजलकीआपूर्तिकीसरकारनियमितजांचकरेगी।इसकेलिएजिलाएवंअनुमंडलस्थितप्रयोगशालाओंकोअत्याधुनिकबनायाजारहाहै।लोकस्वास्थ्यअभियंत्रणमंत्रीडा.रामप्रीतपासवाननेबतायाकिविभागीयजांचप्रयोगशालाकोनेशनलएक्रीडिएशनबोर्डफारटेस्टिंगएंडकैलिब्रेशनलेबोरेट्रीजसेप्रमाणपत्रदिलानेकीकोशिशहोरहीहै।उन्होंनेबतायाकिगुणवत्ताप्रभावितइलाकेमेंलौह,आर्सेनिकऔरफ्लोराइडकीजांचसिर्फनलजलयोजनाकेजलकीहीनहींहोगी।बल्किइनबसावटोंमेंउपलब्धसभीजलस्रोतोंकीनियमितजांचहोगी।

सरकारनेउपलब्‍धकरादीहैपर्याप्‍तराशि

मंत्रीनेबतायाकिजिलास्तरीयप्रयोगशालाओंकोआधुनिकबनानेकेलिएकेंद्रऔरराज्यसरकारसेपर्याप्तराशिमिलचुकीहै।इसकेअलावाअवरप्रमंडलस्तरकेप्रयोगशालोंकोभीसुदृढ़कियाजारहाहै।राज्यमेंइनकीसंख्या76है।विभागक्षमतासंबद्र्धनयोजनाभीचलारहाहै।इसकेतहतविभागीयअधिकारियोंएवंकर्मियोंकेअलावास्वयंसहायतासमूहोंतथासंस्थाओंकोभीप्रशिक्षणदियाजाएगा।

येहैंगुणवत्ताप्रभावितजिले

फ्लोराइड:-नालंदा,रोहतास,कैमूर,औरंगाबाद,गया,नवादा,भागलपुर,मुंगेर,बांका,शेखपुराएवंजमुई।

लौह:-दरभंंगा,पूर्णिया,किशनगंज,कटिहार,अररिया,सहरसा,सुपौल,मधेपुरा,भागलपुर,मुंगेर,बेगूसरायएवंखगडिय़ा।

आर्सेनिक:-बक्सर,भोजपुर,पटना,वैशाली,सारण,समस्तीपुर,दरभंगा,भागलपुर,मुंगेेर,लखीसराय,बेगूसराय,खगडिय़ा,कटिहारएवंसीतामढ़ी।