बिना सीएलयू चल रही 125 फैक्ट्रियां मिली, चल सकता है पीला पंजा या होंगी सील

जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:

औद्योगिकक्षेत्रसेबाहरबिनासीएलयू(चेंजआफलैंडयूज)केचलरहीफैक्ट्रियांअबजिलानगरयोजनाकार(डीटीपी)केनिशानेपरहैं।विभागऐसीफैक्ट्रियोंकासर्वेकरारहाहै।अभीतकहुएसर्वेमेंकरीब125फैक्ट्रियांऐसीमिलीहैंजिनकेपाससीएलयूनहींहै।इनफैक्ट्रियोंकेमालिकोंकोनोटिसजारीहोगा।इसकेबाददस्तावेजपूरेनहींकरनेवालीफैक्ट्रियोंपरजेसीबीचलसकतीहैयाफिरसीलकियाजासकताहै।विभागकेइससर्वेसेफैक्ट्रीसंचालकोंमेंहड़कंपमचाहुआहै।चारोंतरफफैलीहैअवैधफैक्ट्रियां

वैसेतोफैक्ट्रियोंकेलिएसरकारनेऔद्योगिकक्षेत्रबनारखेहैं।इसकेलिएयमुनानगरमेंबसस्टैंडकेनजदीकऔरदूसरामानकपुरमेंऔद्योगिकक्षेत्रबनायागयाहै।इसकेबावजूदनगरनिगमक्षेत्रबाहरजिलामेंचारोंतरफकाफीफैक्ट्रियांबिनाअनुमतिकेचलरहीहैं।छछरौलीरोड,बिलासपुररोड,रादौररोड,सहारनपुररोड,बूड़ियारोडसमेतकईजगहोंपरकुछसालोंमेंसैकड़ोंकीसंख्यामेंनईफैक्ट्रियांलगीहैं।परंतुइनमेंकाफीफैक्ट्रियांऐसीहैंजिन्होंनेडीटीपीसेसीएलयूनहींली।जबकिबिनासीएलयूकेफैक्ट्रीनहींलगाईजासकती।यहीवजहहैकिसर्वेमेंइतनीसंख्यामेंअवैधरूपसेचलरहीफैक्ट्रियांपकड़मेंआईहैं।ग्रामीणक्षेत्रहोनेकाउठातेहैंफायदा

शहरसेबाहरक्षेत्रग्रामीणहै।काफीफैक्ट्रियांकृषियोग्यभूमिपरऐसीजगहबनालीहैंजोसड़कसेदिखाईभीनहींदेती।वहींग्रामीणक्षेत्रोंमेंअधिकारियोंकाआना-जानाभीकमहीहोताहै।इसलिएकुछमहीनोंमेंजमीनपरफैक्ट्रीखड़ीहोजातीहै।जबफैक्ट्रीबनजातीहैतोविभागीयकार्रवाईकानूनीदांवपेचमेंउलझकररहजातीहै।ग्रामीणक्षेत्रमेंबनरहीफैक्ट्रीकीजानकारीसरपंचभीप्रशासनकोदेनेकीजहमतनहींउठाते।जबकिकृषियोग्यजमीनपरकोईभीकामकरनेसेपहलेसीएलयूलेनीजरूरीहै।गतसप्ताहहीजगाधरी-बिलासपुरमार्गपरहरनौलीगांवकेपासबिनासीएलयूबनेएनबीआरहोटलकोडीटीपीनेसीलकरदियाथा।अन्यविभागोंकोभीअलर्टहोनेकीजरूरत

जबइतनीफैक्ट्रियोंकेपाससीएलयूनहींहैतोयहसंभवहैकिउनकेपासअन्यदस्तावेजभीनहींहोंगे।क्योंकिफैक्ट्रीलगानेसेपहलेदमकलविभाग,वनविभाग,पीडब्ल्यूडी,बिजलीनिगमसमेतअन्यविभागोंसेअनुमतिलेनीहोतीहै।यदिकिसीफैक्ट्रीमेंआगलगजाएऔरउसकेपासदमकलविभागसेअनुमतिनहींहै।आगजनीहोनेपरबड़ाहादसाहोजाएतोउसकाजिम्मेदारकौनहोगा।इसलिएअन्यविभागोंकोभीअलर्टहोनेकीजरूरतहै।सबकोनोटिसजारीकरेंगे:अमितमंधोलिया

डीटीपीअमितमधोलियानेबतायाकिअभीतकहुएसर्वेमेंकरीब125फैक्ट्रियांबिनासीएलयूकेचलरहीहैं।इनसभीकोइसीमाहनोटिसजारीहोजाएंगे।बिनासीएलयूचलरहीफैक्ट्रियांपूरीतरहसेअवैधहैं।