बजट के कारण बागेश्वर में नहीं बन सका आक्सीजन जनरेशन प्लांट, कोविड परीज परेशन

बागेश्वर,जागरणसंवाददाता:पर्वतीयजिलोंमेंस्वास्थ्यसुविधाएंबदतरहैं।ऐसेमेंमहामारीकेदौरमेंसंक्रमितमरीजोंकोइलाजकेलिएपरेशानहोनापड़रहाहै।बागेश्वरमेंआक्सीजनजनरेशनप्लांटनहींहोनेसेकोविडसंक्रमितोंकीदिक्कतेंबढ़सकतीहै।जिलाकोविडहेल्थकेयरवकोविडकेयरसेंटरआक्सीजनसिलेंडरोंकेभरोसेहीचलरहहै।एककरोड़14लाखसेप्रस्तावितआक्सीजनजनरेशनप्लांटपैसोंकेकारणनहींबनरहाहै।गंभीरसंक्रमितोंकोरेफरहीकियाजारहाहै।

एकसालबादभीशासन-प्रशासनकीकोविड-19महामारीकोलेकरतैयारीअधूरीहीदिखाईदेरहीहै।जिलेमेंवर्तमानमेंएक26बिस्तरोंकाजिलाकोविडहेल्थकेयरसेंटरऔर50बेडोंकाडिग्रीकालेजमेंकोविडकेयरसेंटरखोलागयाहै।जहांपरकोरोनाकेसंक्रमितमरीजोंकोरखाजारहाहै।जिलाअस्पतालकेपासस्थितडीसीएचसीकोविडअस्पतालमेंदोवेंटिलेटरहै।जरुरतपडऩेपरयहवेंटिलेटरजंबोआक्सीजनसिलेंडरसेचलाएजातेहै।ऐसेहीप्रत्येकबेडमेंआक्सीजनकीसप्लाईकीजातीहै।इसकेअलावा50बेडकेकोविडकेयरसेंटरमेंआक्सीजनसिङ्क्षलडरोंकीव्यवस्थाकीगईहै।स्वास्थ्यमहकमेकादावाहैकिवर्तमानमेंप्र्याप्तआक्सीजनसिङ्क्षलडरोंकीव्यवस्थाहै।

गंभीरमरीजोंकेलिएनहीहैव्यवस्था

महामारीकेएकसालबादभीजिलेमेंगंभीरसंक्रमितमरीजोंकेइलाजकेलिएकोईव्यवस्थानहीहै।मुख्यालयमेंसंक्रमितोंकेइलाजकेलिएडेडिकेटेडकोविडहास्पिटलनहीहै।डीसीएचसुशीलातिवारीअस्पतालहल्द्वानीहै।इसीकारणगंभीरसंक्रमितरोगियोंकोवहींभेजाजारहाहै।

छहघंटेमेंपहुंचतेहैंहल्द्वानी

अगरकिसीगंभीरमरीजकोरेफरकियाजाताहैतोउसेहल्द्वानीस्थितसुशीलातिवारीअस्तपालभेजाजाताहै।यहांपहुंचनेमें6घंटेलगतेहै।इसकेलिएस्वास्थ्यमहकमेकेपास8एंबुलेंसहै।

एकहजारबेडोंकेलिएजगहच‍िहिंत

जिलाधिकारीविनीतकुमारनेबतायाकिअभी5करोड़कीधनराशिहै।जिससेइसमहामारीसेनिपटनेकेलिएकाममेंप्रयोगमेंलायाजाएगा।जिलेमेंएकहजारबेडोंकीअतिरिक्तव्यवस्थाकीजारहीहै।जगहच‍िहिंतकरलीगईहै।

वैक्सीननहीहुईउपलब्ध

स्वास्थ्यमहकमेकाअभीतकरेमिडेसिविरदवाईउपलब्धनहीहुईहै।स्वास्थ्यविभागमेंडिमांडदीहै।अबदवाआनेकाइंतजारकियाजारहाहै।

UttarakhandFloodDisaster:चमोलीहादसेसेसंबंधितसभीसामग्रीपढ़नेकेलिएक्लिककरें