BRD मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत मामले में डॉ. कफील को विभागीय जांच में क्लीन चिट

लखनऊ,जेएनएन।उत्तरप्रदेशकीराजनीतिकोकाफीगरमानेवालेसीएमयोगीआदित्यनाथकीकर्मस्थलीगोरखपुरकेबाबाराघवदासमेडिकलकॉलेजमें60बच्चोंकीमौतकेमामलेमेंनिलंबितडॉ.कफीलकोविभागजांचमेंक्लीनचिटमिलगईहै।बालरोगविशेषज्ञडॉ.कफीललंबेसमयसेनिलंबितचलरहेथे।इसबीचउनकोतत्कालीनकांग्रेसअध्यक्षराहुलगांधीसेभीकाफीसराहनामिलीथी।अबउनकोक्लीनचिटमिलीहै।

ऑक्सीजन कीकमीसेबच्चोंकीमौतकेमामलेमेंतत्कालीनप्रमुखसचिवस्टांपहिमांशुकुमारकोपूरेमामलेकीविभागीयजांचकरनेकेलिएजांचअधिकारीबनायागयाथा।लंबेसमयसेचलरहीजांचकेबादलगभगएकमहीनेपहलेहीशासनकोरिपोर्टसौंपदीगईथी।प्रथमदृष्टयाजांचमेंपूर्वप्राचार्य,डॉ.कफीलखान,डॉ.सतीशसमेतबीआरडीकेपांचवएकऑक्सीजनवितरकमनीषभंडारीकोजिम्मेदारीनिभानेमेंलापरवाहीनिभानेकादोषीपायागया।इसकेबाद22अगस्तकोडॉकफीलकोनिलंबितकरदियागया।इसदौरानकरीबनौमहीनेउन्होंनेजेलभीकाटी।डॉकफीलकेखिलाफमेडिकलकॉलेजमेंलापरवाहीनिभानेकेआरोपोंकीजांचकेदौरानजांचअधिकारीकोडॉकफीलकीलापरवाहीकिसीतरहभीनहींमिली।इसीआधारपरउन्होंने18अप्रैल2019कोशासनकोरिपोर्टभेजकरडॉ.कफीलकोनिर्दोषबतायाथा।रिपोर्टकोचारमहीनेसेअधिकसमयतकदबाकररखागया।अबइसरिपोर्टगोरखपुरमेडिकलकॉलेजप्रशासनसेलेकरअन्यजिम्मेदारोंकेपासभेजदियागयाहै।

करीबदोवर्षपहलेमेडिकलकॉलेजमें10से12अगस्तकेबीचसौबेडकेवॉर्डमेंलगभग70बच्चोंकीमौतहोगईथी।इसेऑक्सीजनत्रासदीकानामदियागयाथा।जांचमेंपायागयाकिऑक्सीजनकीमात्रालगभगखत्मकेबराबरथीऔरइसवजहसेहादसाइतनाबड़ाहोगया।डॉक्टरकफीलकोलापरवाही,भ्रष्टाचारवठीकसेकामनहींकरनेकेआरोपमेंसस्पेंडकियागयाथा।अबविभागीयजांचरिपोर्टमेंडॉक्टरकफीलकोसभीआरोपोंसेमुक्तकरदियागयाहै।जांचरिपोर्टभीइससाल18अप्रैलकोहीआगईथीलेकिनडॉकफीलकोकलहीदीगई।

उम्मीदकरताहूंकियोगीआदित्यनाथसरकारमेरानिलंबनवापसलेगी

डॉ.कफीलनेकहाकिमैंकाफीखुशहूंकिमुझेसरकारसेहीक्लीनचिटमिलीहै।क्लीनचिटमिलनेकेबादडॉ.कफीलनेकहाकिवहकाफीखुशहैं।जांचरिपोर्टमेंआनेमेंदोसाललगगएहालांकिउनकोन्यायकीउम्मीदथी।परमेरेढाईसालवापसनहींआसकते।दोवर्षतकउनकेपरिवारनेप्रताडऩाबर्दाश्तकीहै। डॉ.कफीलनेकहाकिजांचअधिकारीनेमानाहैकिडॉ.कफीलने54घंटेमें500ऑक्सीजनसिलेंडरलाए।उसनेकोईलापरवाहीनहींकीहै।उनकेखिलाफलगाएगएसभीआरोपअप्रासंगिकहैंऔरबिनाकिसीआधारकेहैं। अगस्त2017मेंगोरखपुरमेंलिकविडऑक्सिजनकमीसे70बच्चोंकीमौतहुईथी।मैंनेबाहरसेऑक्सीजनसेलेंडरमंगाकरबच्चोंकीजानबचाई।उससमयकेबड़ेअधिकारियोंऔरस्वास्थ्यमंत्रीसिद्धार्थनाथसिंहकोबचानेकेलिएमुझेफंसायागया।मुझे9महीनोंकेलिएजेलभेजदियागयाजहांटॉयलेटमेंबंदकरदियाजाताथा।जबमैंजेलसेवापसआयातोमेरीछोटीबेटीनेमुझेपहचानातकनहीं।परिवारसौ-सौरुपएकेलिएमोहताजहोगयाथा।अप्रैल2019कोसरकारकीजांचपूरीहोगईथीपरमुझेअबयेरिपोर्टसौंपीगईहै।मैंचाहताहूंकिजो70बच्चेमरेउनकोइंसाफमिले।मैंउम्मीदकरताहूंकियोगीआदित्यनाथसरकारमेरानिलंबनवापसलेगी।

गोरखपुरकेबीआरडीमेडिकलकॉलेजमें10अगस्त2017कोऑक्सीजनकीकमीकेचलतेकईबच्चोंकीमौतहोगई।अखबारोंऔरसोशलमीडियामेंडॉकफीलकोहीरोबतायागयाक्योंकिउन्होंनेबाहरसेसिलेंडरमांगकरकईबच्चोंकीजानबचाई।22अगस्तकोडॉ.कफीलकोलापरवाहीबरतनेऔरतमामगड़बडिय़ोंकेआरोपमेंसस्पेंडकरदियागया।दोसितंबर2017कोडॉक्टरकफीलकोजेलभेजदियागया।25अप्रैल2018को8महीनेबादडॉ.कफीलकोजमानतमिलगई।मार्च2019कोइलाहाबादहाईकोर्टनेसरकारकोआदेशदियाकिडॉ.कफीलकीजांचपूरीहोनेकेबाद90दिनकेअंदरउनकोसौंपीजाए।यहजांचरिपोर्ट18अप्रैल2019कोआगईथी,लेकिनडॉ.कफीलको26सितंबरकोदीगई।

प्रमुखसचिवखनिजऔरभूतत्वविभागकीअगुवाईमेंहुईजांचकेबादडॉक्टरकफीलपरलगाएगएआरोपोंमेंसच्चाईनहींपाईगई।रिपोर्टकेमुताबिक,कफीलनेघटनाकीरातबच्चोंकोबचानेकीपूरीकोशिशकीथी।डॉ.कफीलपरलगाएगएसभीआरोपगलतपाएगए।जांचकीरिपोर्टगुरुवारकोबीआरडीअधिकारियोंनेकफीलकोदी।