चिकित्सा के क्षेत्र में परचम लहराने के बाद लोगों की सेवा कर रहीं पूजा

मधेपुरा।कुछकरनेकाजज्बाहोतोरास्तेअपनेआपखुलजातेहैं।परिस्थितियांकितनीभीविपरीतक्योंनहोनिरंतरप्रयासकेबादउससेभीपारपायाजासकताहै।अपनेजीवनमेंआनेवालीहरसमस्याओंकोपीछेछोड़तेहुएलगातारआगेबढ़रहीहै।

डॉ.पूजाभारतीनेबतायाकिपढ़ाईकेदौरानकाफीसमस्याएंआई,लेकिनअपनेमाता-पिताकेप्रोत्साहनवशिक्षकोंकेमार्गदर्शनसेचिकित्सकबननेमेंसफलहुई।

बतातेचलेंकिचिकित्सकबननेकेबादडॉ.पूजाजरूरतमंदलोगोंकीनिश्शुल्कजांचकरतीहैं।लोगोंकीस्वास्थ्यजांचकेसाथमहिलाओंकोनिश्शुल्कदवाईभीदेतीहैं।पूजानेबतायाकिअभीभीकाफीऐसेलोगहैंजोपैसेकेअभावमेंजांचवइलाजसेवंचितरहजातेहैं।इसकेलिएमैंलगातारनि:शुल्कजांचवदवाईदेकरसहायताकरनेमेंजुटीहूं।

नि:शुल्कशिविरलगाकरकरतीहैंजांचमहिलाओंकीसशक्तीकरणकेबादहीसमाजआगेबढ़सकताहै।इसबातकोआत्मसातकरडॉ.पूजाअपनेपतिडॉ.मिथिलेशकेसहयोगसेसमय-समयपरबिहारीगंजप्रखंडक्षेत्रमेंआर्थिकस्थितिसेकमजोरलोगोंकीशिविरलगाकरनि:शुल्कजांचवदवाईदेतीहैं।डॉ.पूजापूर्णियाकेसदरअस्पतालमेंचिकित्सकपदपरकार्यरतहैं।इसकेसाथहीबिहारीगंजमेंसमय-समयपरनिश्शुल्कशिविरजांचकरलोगोंकीजांचकरउन्हेंदवाईदेतीहै।डॉ.पूजानेबतायाकिअभीभीसमाजमेंकईऐसेलोगहैंजोएकसामान्यब्लडजांचकरानेमेंभीअसमर्थहैं।ऐसेलोगोंकीसहायताकरनासभीलोगोंकोधर्महै।इसीकोध्यानमेंरखतेहुएछुट्टीमिलनेपरगांव-गांवमेंस्वास्थ्यशिविरलगाकरलोगोंकीसेवाकररहीहै।जांचकेदौरानखासकरआर्थिकरूपसेकमजोरमहिलारोगीकेलिएनिशुल्कजांचकरानेकीव्यवस्थाकीजातीहै।उन्होंनेबतायाकिलोगोंकीसेवाकेलिएआगेभीजांचशिविरकाआयोजनकियाजातारहेगा।