डॉक्टर्स ने एक दिन में 53 हजार मरीजों का किया इलाज; स्वास्थ्य विभाग ने जारी किए आंकड़े

टेलीमेडिसिनमेंबिहारनेरिकॉर्डबनादियाहै।डॉक्टरोंनेएकदिनमेंटेलीमेडिसिनसे53हजारमरीजोंकाइलाजकरइतिहासबनादियाहै।स्वास्थ्यविभागकादावाहैकियहरिकॉर्डबिहारकोदेशमेंदूसरास्थानदिलायाहै।स्वास्थ्यविभागने16अप्रैलकाआंकड़ाजारीकरतेहुएकहाहैकिचिकित्साकेक्षेत्रमेंपिछड़ाकहाजानेवालेबिहारनेयहसाबितकरदियाहैकिमाॅडर्नचिकित्सामेंकईगुनाआगेहै।

ईसंजीवनीसेबनायारिकॉर्ड

स्वास्थ्यविभागकाकहनाहैकिईसंजीवनीसेबड़ारिकॉर्डबनायागयाहै।इसरिकॉर्डनेयहसाबितकरदियाहैकिबिहारकेअस्पतालोंमेंग्रामीणक्षेत्रमेंभीमरीजोंकीशहरकेडॉक्टरबेहतरढंगसेइलाजकररहेहैं।स्वास्थ्यमंत्रीमंगलपांडेयनेकहाकिहेल्थएंडवेलनेसकेंद्रकीचौथीवर्षगांठपरआमलोगोंकोदीगईटेलीमेडिसिनकीसुविधामेंबिहारपूरेदेशमेंदूसरेस्थानपररहाहै।इसदौरानपूरेराज्यमें52हजार779लोगोंनेटेलीमेडिसिनकीसुविधाई-संजीवनीकेमाध्यमसेली।

टेलीमेडिसिनसेबड़ीराहत

बिहारनेटेलीमेडिसीनकेजरिएआमलोगोंकोस्वास्थ्यसंबंधीलाभदेनेमेंपूरेदेशमेंदूसरास्थानलायाहै।इसकेमाध्यमसेहेल्थएंडवेलनेससेंटरपरआमजनोंकोस्वास्थ्यपरीक्षणवपरामर्शदियागया।स्वास्थ्यसेवाकीपर्याप्तउपलब्धताएवंआसानपहुंचकोसुनिश्चितकरनेकेलिएइसकेडिजिटलाइजेशनपरबिहारगंभीरहै।आनेवालेसमयमेंटेलीमेडिसीनकीसुविधास्वास्थ्यसेवाओंकेडिजिटलाइजेशनमेंअहमभूमिकानिभाएगी।

टेलीमेडिसीनकीसुविधाप्राप्तकरनेमेंराज्यकेसभीजिलोंकेस्वास्थ्यकेंद्रोंकेचिकित्सकऔरकर्मियोंनेबढ़चढ़करभागलिया।जिसकासकारात्मकपरिणामआजसामनेदिखरहाहै।स्वास्थ्यविभागकाकहनाहैकिराज्यकेभागलपुरजिलामेंतीनहजार144लोगोंनेटेलीमेडिसीनकालाभलेकरअव्वलस्थानपानेमेंसफलताहासिलकीहै।इसकेअलावासारण,मधेपुरा,पूर्णियाऔरमुजफ्फरपुरजिलाकाभीप्रदर्शनबेहतररहाहै।राज्यकेशेषजिलोंकाभीप्रदर्शनठीकरहाहै।इसेऔरबेहतरकियाजारहाहै।पूरेदेशमें16अप्रैलकोभारतसरकारआयुष्मानभारतकेतहतहेल्थएंडवेलनेसकेंद्रकीचौथीवर्षगांठमनायाहै।