ग्रामीण क्षेत्रों में गहराया पेयजल संकट, जल संरक्षण नहीं

संस,गोड्डा:जिलेकेपथरगामाप्रखंडकेबाराबांधऔरगांधीग्रामक्षेत्रमेंइनदिनोंपेयजलसंकटकेकारणआमलोगोंकीपरेशानीबढ़गईहै।यहांभूजलस्तरइतनानीचेचलागयाहैकिचापाकलभीपानीदेनेमेंनाकामसाबितहोरहेहैं।पानीनिकालनेकेलिएग्रामीणोंकोकाफीमशक्कतकरनीपड़तीहै।इसक्षेत्रकेडुमरिया,संथाली,बाराबांध,गांधीग्राम,बंदनवार,विरसन्नीसहितआसपासकेकईगांवोंमेंपेयजलसंकटसेहाहाकारकीस्थितिबनगईहै।ग्रामीणोंकोगांवसेबाहरस्थितकुआंसेपानीलाकरअपनीप्यासबुझानीपड़रहीहै।इसक्षेत्रमेंएकभीसोलरचालितजलापूर्तिसंयंत्रनहींस्थापितकियागयाहै।महजएकहरकट्टामेंहीकिसीतरहसोलरपंपसेपानीमिलरहाहै।जबकिअन्यगांवोंकीसमस्याऔरभयावहहोगईहै।पठारीक्षेत्रमेंरहनेकेकारणआमलोगोंकेलिएजरूरतकेअनुसारपानीकीजुगाड़करनाआसानचीजनहींरहगयाहै।क्षेत्रके200सेअधिकचापाकलोंमेंसेमहज20-25सेहीकिसीतरहपानीनिकलताहै।यहांसरकारकीओरसेअबतकजलमीनारकानिर्माणनहींकियागया।ऐसेमेंदूर-दूरसेपानीलाकरप्यासबुझानाग्रामीणोंकेलिएचुनौतीबनीहुईहै।यहींनहींआसपासकेपोखरवतालाबभीसूखजानेसेपशुपालकोंकोभीकाफीपरेशानीउठानीपड़रहीहै।मवेशियोंकोलखनपहाड़ीयाबारकोपपोखरमेंलेजाकरपानीपिलायाजाताहै।बावजूदसरकारवजिलाप्रशासनपेयजलआपूर्तिसुनिश्चितकरानेकीदिशामेंकोईपहलनहींकररहाहै।क्षेत्रकेलोगोंमेंपानीकोलेकरकाफीआक्रोशहै।आसन्नचुनावमेंग्रामीणपानीकेसवालपरमुखरभीदिखरहेहैं।------------------------क्याकहतेहैंग्रामीण:ग्रामीणअनंतनारायणदुबे,सिंहेश्वरपासवान,नारायणयादव,बसंतटुडू,ओमप्रकाशमेहरा,सीतलमहरा,मरांमयसोरेनआदिकाकहनाहैकिइसक्षेत्रमेंसालोंबादभीलोगोंकोपेयजलकेलिएजूझनापड़ताहै।बरसातकेबादआसपासकेकुआंवतालाबमेंपानीजमाहोनेसेकिसीतरहकामचलजाताहै।लेकिनचैतमासकेबादसेस्थितिभयावहबनजातीहै।जनप्रतिनिधियोंकोबराबरइसदिशामेंध्यानआकृष्टकरायाजाताहैलेकिनकोईपहलनहींहोतीहै।------------------वर्जन:क्षेत्रमेंपेयजलसुविधामुहैयाकरानेकीदिशामेंबार-बारजिलापरिषदकीबैठकमेंप्रशासनकेसमयआवाजउठायीजातीहै।प्रत्येकबारआश्वासनमिलताहैलेकिनकामनहींहोताहै।इसकेलिएवित्तआयोगसेराशिनिर्गतकराकरपेयजलआपूर्तिसुनिश्चितकरानेकाप्रयासकियाजायेगा।

:पूनमदेवी,जिपसदस्य,गोड्डा