गृह मंत्रालय का फैसला- टेस्ट रिजल्ट का इंतजार किए बिना ही कोरोना संदिग्धों के शव परिजनों को सौंपे जाएंगे

दिल्लीमेंकोरोनावायरसकीस्थितिलगातारगंभीरहोतीजारहीहै.राजधानीमेंमहामारीसेसंक्रमणकेमामलेबढ़रहेहैंऔरमरीजोंकीजानभीजारहीहै.इनसबकेबीचशवोंकोसंभालनेकामुद्दाभीगर्मायाहुआहै.ऐसेमेंगृहमंत्रीअमितशाहनेआदेशदिएहैंकिकोरोनासेमौतकेसंदिग्धमामलोंमेंशवोंकोतुरंतहीपरिवारोंकोसौंपदियाजाए.

गृहमंत्रीअमितशाहनेरविवार14जूनकोदिल्लीकेमुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवाल,उपराज्यपालअनिलबैजल,स्वास्थ्यमंत्रीडॉहर्षवर्धनऔरदिल्लीकेतीनोंमेयरोंकेसाथउच्चस्तरीयबैठककीथी,जिसमेंराजधानीमेंकोरोनासेनिपटनेकोलेकरकईफैसलेलिएगए.

गृहमंत्रालयकेप्रवक्तानेट्वीटकरजानकारीदीकिसंदिग्धमामलोंमेंटेस्टरिजल्टकाइंतजारकिएबिनाहीपरिजनोंकोशवसौंपनेकाआदेशदियागयाहै.

आदेशमेंकहागयाहै,“गृहमंत्रीअमितशाहकेआदेशकोध्यानमेंरखतेहुएस्वास्थ्यमंत्रालयनेनिर्देशदियाहैकिकोरोनासंदिग्धोंकेशवलैबसेपुष्टिकाइंतजारकिएबिनातुरंतहीपरिजनोंकोसौंपाजाए;साथहीस्वास्थ्यमंत्रालयकी15मार्चकोजारीगाइडलाइनकाध्यानरखतेहुएहीशवोंकाअंतिमसंस्कारकियाजाए.”

इसकेसाथहीराजधानीमेंचार-चारडॉक्टरोंकीतीनटीमेंगठितकीगईहैं,जिनमेंAIIMS,दिल्लीसरकार,स्वास्थ्यमंत्रालयऔरस्वास्थ्यसेवानिदेशालयकेडॉक्टररहेंगे.येटीमेंराजधानीमेंकोरोनाकेलिएनिर्धारितअस्पतालोंमेंस्वास्थ्यसुविधाओंकाजायजालेगी.

इसकेअलावाAIIMSदिल्लीमेंएकहेल्पलाइन-कोविड-19नेशनलटेलीकंसल्टेशनसेंटर(CoNTecAIIMS)भीबनाईगईहै,जिसमेंकॉलकरलोगओपीडीअप्वाइंटमेंटलेसकतेहैं.इसकानंबरहै-9115444155.