हार के मुकाबले जीत को पचाना अधिक मुश्किल होता है : शिवसेना

मुंबई,11मार्च(भाषा)देशमेंचारराज्योंमेंभारतीयजनतापार्टी(भाजपा)केसत्तामेंलौटनेपरशिवसेनानेशुक्रवारकोपार्टीपरनिशानासाधतेहुएकहाकिउसेइससफलताकेकारणअपचकाशिकारनहींहोनाचाहिएक्योंकिहारकेमुकाबलेजीतकोपचानाअधिकमुश्किलहोताहै।बृहस्पतिवारकोघोषितहुएपांचराज्योंकेविधानसभाचुनावनतीजोंमेंभाजपाउत्तरप्रदेश,उत्तराखंड,मणिपुरऔरगोवामेंसत्तामेंबनीरहेगीजबकिअरविंदकेजरीवालकीआमआदमीपार्टी(आप)नेपंजाबमेंजबरदस्तजीतहासिलकरतेहुएकांग्रेसकोसत्तासेबाहरकरदिया।शिवसेनानेअपनेमुखपत्र‘सामना’मेंसंपादकीयमेंलिखाकिचारराज्योंमेंभाजपाकीजीतसेमहाराष्ट्रपरअसरनहींपड़ेगाऔर‘‘इसकाअसरवैसाहीहोगाजैसाकिबंदरोंकेशराबकीबोतलपकड़नेपरहोताहै।’’पार्टीनेकहाकिउत्तरप्रदेशमेंविकासपरजातिकोवरीयतादीजातीहैऔरइसबारभाजपाचुनावजीतनेकेलिए‘हिजाब’औरजातिकेमुद्देकाइस्तेमालकरकेसफलरही।उसनेदावाकियाकिमायावतीकेनेतृत्ववालीबहुजनसमाजपार्टी(बसपा)नेभीमौनरहकरभाजपाकीमददकी।महाराष्ट्रमेंसत्तारूढ़पार्टीनेकहाकिऐसीउम्मीदथीकिअखिलेशयादवनीतगठबंधनकोलगभग180सीटोंपरजीतमिलेगीक्योंकिउन्हेंअच्छीप्रतिक्रियामिलरहीथीलेकिनवह150केआंकड़ेकोपारनहींकरसकी।शिवसेनानेकहा,‘‘हारकेमुकाबलेजीतकोपचानाअधिकमुश्किलहोताहै।भाजपाकोइसजीतकेकारणअपचकीसमस्याकाशिकारनहींहोनाचाहिए।’’उद्धवठाकरेकेनेतृत्ववालीपार्टीनेकहाकिकांग्रेसनेताप्रियंकागांधीवाद्रानेउत्तरप्रदेशमेंचुनावोंमेंअपनीपार्टीकीअगुवाईकी।उसनेकहाकिअगरयादवऔरगांधीनेचुनावसाथलड़ाहोतातोवेकड़ामुकाबलादेनेकेलिएबेहतरस्थितिमेंहोते।शिवसेनानेकहाकिगांधीकोराज्यमेंअपनेप्रयासोंकोजारीरखनाचाहिए।उसनेकहाकिगोवामेंकांग्रेसकेवल11सीटहीजीतसकीऔरभाजपाको‘आप’तथातृणमूलकांग्रेसकेचुनावलड़नेसेफायदामिला।