हाथरस दुष्कर्म की जांच सीबीआई से कराने के लिए एनजीओ ने उच्चतम न्यायालय का रुख किया

नयीदिल्ली,आठअक्टूबर(भाषा)एकगैरसरकारीसंगठन(एनजीओ)नेउच्चतमन्यायालयमेंयाचिकादायरकरहाथरसमेंदलितलड़कीकेसाथहुएकथितसामूहिकदुष्कर्मकेमामलेकीजांचसीबीआईकोस्थानांतरितकरनेकानिर्देशदेनेकाअनुरोधकियाहै।एनजीओनेहाथरसमामलेकोलेकरलंबितयाचिकामेंहस्तक्षेपकरनेऔरशीर्षअदालतकीसहायताकरनेकाअनुरोधकरतेहुएकहाकिउसेवैसेपीड़ितोंकेसाथकामकरनेकाअनुभवहै,जिन्हेंताकतवरराज्यद्वाराउन्हेंडरायाऔरधमकायागया।सिटीजनफॉरजस्टिसऐंडपीसनामकीसंस्थानेअपनेआवेदनमेंगवाहोंकीसुरक्षा,मृतककेअधिकार,नार्कोजांचकीस्वीकार्यता,लोकप्राधिकारियोंकेबयान,मौतसेपहलेदिएबयानऔरदुष्कर्मकेमामलोंमेंफॉरेंसिकएवंअन्यचिकित्सासबूतोंकीप्रासंगिकताजैसेपहलुओंकोउठायाहै।इसमेंकहागया,‘‘आवेदनकर्ताइसमेंमुख्यरूपसेइसमेंहस्तक्षेपकररहाहैकिक्योंकिमीडियामेंऐसीकईखबरेंहैंजोबतातीहैंकिवरिष्ठपुलिसअधिकारीऔरजनप्रतिनिधिइसनृशंसअपराधकोकमतरकरनेकीकोशिशकररहेहैंऔरवास्तवमेंमामलेमेंपूर्वाग्रहबनारहेहैं।’’उत्तरप्रदेशसरकारनेभीइसहफ्तेशीर्षअदालतमेंअपनाहलफनामादाखिलकरकेमामलेकीजांचसीबीआईसेकरानेकाआदेशदेनेकाअनुरोधकियाहै।सरकारनेकहाकिइसमामलेमेंएकनिर्दोषजिंदगीचलीगईऔरउच्चतमन्यायालयअपनीनिगरानीमेंकेंद्रीयएजेंसीकोजांचकरनेकाआदेशदेसकताहै।उल्लेखनीयहैकि19वर्षीयदलितयुवतीसे14सितंबरकोअगड़ीजातिकेचारपुरुषोंनेकथितरूपसेसामूहिकदुष्कर्मकियाथा।पीड़िताकी29सितंबरकोदिल्लीकेसफदरजंगअस्पतालमेंइलाजकेदौरानमौतहोगईथी।पीड़िताकेशवकाउसकेघरकेपास30सितंबरकोअंतिमसंस्कारकियागया।उसकेपरिवारकाआरोपहैकिस्थानीयपुलिसनेजल्दबाजीमेंअंतिमसंस्कारकराया।हालांकि,स्थानीयपुलिसकादावाहैकिपरिवारकीइच्छाकेअनुरूपअंतिमसंस्कारकियागया।एनजीओनेअपनीयाचिकामेंआरोपलगायाकिएकवरिष्ठपुलिसअधिकारीसेजुड़ीखबरहै,जिसमेंउन्होंनेपीड़ितासेबलात्कारनहींहोनेकादावाकियाथा।याचिकामेंकहागया,‘‘यहचिंताजनकहैकिइसस्तरकाअधिकारीसार्वजनिकरूपसेऐसाबयानदेरहाहै,जबकिमामलेकीजांचजारीहैऔरमुकदमेकीसुनवाईपूरीहोनेकेबादअंतिमनतीजेआएंगे।’’याचिकामेंकहागया,‘‘आवेदकइनपरिस्थितयोंकीवजहसेहस्तक्षेपकररहाहैक्योंकिउसेऐसेपीड़ितोंकेसाथकेकामकरनेकाअनुभवहै,जिन्हेंपूर्वमेंताकतवरराज्यद्वाराडरायाऔरधमकायागयाहै।’’एनजीओनेकहाकिपीड़ितकेपरिवारकीसुरक्षाकोलेकरदिन-ब-दिनअनिश्चितताबढ़तीजारहीहैखासतौरपरमीडियामेंऐसीखबरेंआरहीहैकिआरोपीसेकथिततौरपरजुड़ेसामाजिकरूपसेताकतवरपरिवारपीड़ितपक्षकोधमकारहेहैं।याचिकामेंकहागयाकिबड़ासवालगवाहोंकीसुरक्षाकाहै,जोइसमामलेमेंबहुतमहत्वपूर्णहै।याचिकामेंदावाकियागयाकिदोअक्टूबरकोउत्तरप्रदेशसरकारकेप्रवक्तानेकहाकिपीड़ितपरिवारकापॉलीग्राफऔरनार्कोंजांचकराईजाएगी।इसमेंआरोपलगायागयाहैकिअधिकारीनेकहाकिपुलिसअधिकारियोंऔरमामलेसेजुड़ेलोगोंकेसाथ-साथआरोपियोंऔरपीड़ितदोनोंकीजांचकराईजाएगी।याचिकामेंकहागयाकिपरिवारकेसदस्योंकीइसतरहकीजांचकेलियेकहनाकानूनकाबेजाइस्तेमालहैक्योंकिवेमामलेमेंनतोआरोपीहैंऔरनहीउनकेखिलाफकोईमामलादर्जहै।याचिकामेंकहागयाकिमामलेकीजांचसीबीआईकोइसशर्तकेसाथस्थानांतरितकरनीचाहिएकिवहउच्चतमन्यायालयकोप्रगतिरिपोर्टजमाकरेगी।एनजीओनेसभीगवाहोंकीसुरक्षाकेंद्रीयअर्धसैनिकबलोंकेजवानोंसेकरानेऔरपीड़िताकेशवकोआधीरातकोदाहसंस्कारकरानेकीपरिस्थितियोंकीजांचकेलिएशीर्षअदालतकेसेवानिवृत्तन्यायाधीशकोनियुक्तकरनेकेलिएनिर्देशदेनेकाअनुरोधकिया।गौरतलबहैकिछहअक्टूबरकोउच्चतमन्यायालयनेहाथरसमामलेकीसुनवाईकरतेहुएघटनाको‘स्तब्ध’करनेवालाऔर‘भयावह’करारदेतेहुएकहाथाकिवहसुनिश्चितकरेगाकि‘सुचारु’जांचहो।शीर्षअदालतनेउत्तरप्रदेशसरकारसेआठअक्टूबरतकजवाबमांगाथाकिमामलेमेंगवाहोंकीसुरक्षाकैसेकीजारहीहै।