जागरुकता के प्रसार से जनसंख्या नियंत्रण के लक्ष्य को हासिल किया जा सकेगा : मांडविया

नयीदिल्ली,एकअप्रैल(भाषा)स्वास्थ्यएवंपरिवारकल्याणमंत्रीमनसुखमंडावियानेशुक्रवारकोकहाकिदेशकेबेहतरविकासकेलिएपरिवारछोटाहोनाचाहिएतथाजनसंख्यास्थिरहोनीचाहिए।साथहीउन्होंनेइसबातपरभीभरोसाजतायाकिजागरुकताकेप्रसारसेजनसंख्यानियंत्रणकेलक्ष्यकोहासिलकियाजासकेगा।जनसंख्यानियंत्रणकेलिएकानूनबनानेकोलेकरराज्यसभामेंलाएगएएकनिजीविधेयकपरहुईचर्चामेंहस्तक्षेपकरतेहुएमंडावियानेकहा‘‘देशमेंआजबेहतरस्वास्थ्यउपचारकीसुविधादीजारहीहै,देशबदलरहाहैऔरप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकेनेतृत्वमेंएकनयाइंडियाबनरहाहै।’’यहनिजीविधेयकभारतीयजनतापार्टीसेसंबद्धएकमनोनीतसदस्यराकेशसिन्हाकाथा।स्वास्थ्यएवंपरिवारकल्याणमंत्रीनेविधेयकपरहुईचर्चाकाजवाबदेतेहुएकहाकियहसहीहैकिबढ़तीजनसंख्याकईसमस्याओंकाकारणहोतीहैलेकिनउन्हेंपूराविश्वासहैकिशिक्षातथाजागरुकताकेप्रसारसेजनसंख्यानियंत्रणकेलक्ष्यकोहासिलकियाजासकेगा।मंडावियानेकहाकिदेशमेंप्रजननदरदोप्रतिशततकपहुंचगयीहैतथा2025तकइसेऔरकमकरनेकीओरदेशआगेबढ़रहाहै।उन्होंनेकहाकिदेशमेंजनसंख्यावृद्धिकीदरमेंभीलगातारगिरावटदर्जकीजारहीहैं।उन्होंनेकहाकि1971मेंजनसंख्यावृद्धिदर2.20प्रतिशतथीजो2011मेंयहघटकर1.64प्रतिशतहोगईहै।उन्होंनेकहा,‘‘यहएकअच्छीसफलताहै।जनसंख्याजिसगतिसेबढ़रहीहै,उससेस्पष्टहैकिउसमेंकाफीगिरावटआईहै।’’स्वास्थ्यमंत्रीनेकहाकिदेशमेंजनसंख्यानीति1952सेहैऔरअबतकजनसंख्यानियंत्रणकेलिएजोप्रयासकिएगएउसकेसकारात्मकपरिणामभीमिलेहैं।उन्होंनेकहाकिबेहतरजीवनस्तरकेलिएजनसंख्यानियंत्रणजरूरीहै।मंत्रीनेकहा‘‘ऐसेप्रयासकरनाचाहिएजिससेजनतास्वयंपरिवारनियोजनकोअपनाए।इसकेलिएकानूनजरूरीनहींहै।’’उन्होंनेकहाकिपहलेजबबच्चेअधिकहोतेथेतबबालमृत्युदरभीअधिकथी।लेकिनसमयकेसाथइसस्थितिमेंबदलावहुआ।इसकेलिएबेहतरस्वास्थ्यसुविधाओंतकलोगोंकीपहुंचजरूरीथीऔरयहकियागया।उन्होंनेकहाकिइसकेलिए2017मेंराष्ट्रीयस्वास्थ्यनीतिलाईगईजिसकेतहतकईकदमउठाएगए।उन्होंनेकहा,‘‘आयुष्मानभारतयोजनाचलाईगई।इसकेतहतगरीबोंकोपांचलाखरुपयेतककेनि:शुल्कइलाजकीसुविधादीगईऔरतीनकरोड़सेअधिकलोगोंनेइसकाफायदाउठाया।’’मंडावियानेकहाकिदूरदूरकेगांवोंकेलोगोंकोस्वास्थ्यकीदेखभालकेलिएसमुचितसुविधाएंमिलनीचाहिए।उन्होंनेकहाकिइसबातकोध्यानमेंरखतेहुए2014केबादमेडिकलकालेजोंकीसीटें52लाखसेबढ़ाकर92लाखकीगईंतथाइनमेंअभीऔरवृद्धिहोगी।इसीप्रकारस्नातकोत्तरस्तरपरकीसीटें30हजारसेबढ़कर60हजारकीगईं।स्वास्थ्यएवंपरिवारकल्याणमंत्रीनेकहाकितयकियागयाकिदेशमेंडेढ़लाखसेअधिक‘‘हेल्थएंडवेलनेससेंटर’’होंजहांसंजीवनीप्लेटफॉर्ममें13प्रकारकीजांचहोतथाटेलीमेडिसिनकीभीव्यवस्थाहो।उन्होंनेबतायाकिएकलाखदसहजारऐसेसेंटरदेशमेंशुरुहोचुकेहैंतथाशेषजल्दहीशुरूहोंगे।उन्होंनेकहाकि‘‘फ्रीडाइग्नोस्टिकसेंटर’’भीशुरुकिएजारहेहैं।उन्होंनेबतायाकिराष्ट्रीयस्वास्थ्यमिशनकेतहतदेशमें15,528ऐसीएंबुलेंसहैंजोगांवसेयासुदूरस्थितजगहोंसेमरीजोंकोस्वास्थ्यकेंद्रतकपहुंचातीहैंऔरकुल5975विशेषज्ञडाक्टरइसकेतहतकार्यकररहेहैं।मंत्रीकेअनुसार,इसकेअलावास्वास्थ्यकेबारेमेंव्यापकस्तरपरजागरुकताफैलानेकेलिएकार्यक्रमभीचलाएजारहेहैं।जनसंख्यानियंत्रणकेलिएसरकारकीओरसेकिएगएउपायोंकीविस्तारसेजानकारीदेतेहुएमांडवियानेकहाकिपरिवारछोटाहोनाचाहिए,जनसंख्यास्थिरहोनीचाहिएऔरजागरुकताकेप्रसारसेजनसंख्यानियंत्रणकेलक्ष्यकोहासिलकियाजासकेगा।उन्होंनेराकेशसिन्हासेयहविधेयकवापसलेनेकीअपीलकी।उनकीइसअपीलकोस्वीकारकरतेहुएसिन्हानेबादमेंविधेयककोवापसलेलिया।जारी