झोलाछाप फिर करने लगे सेहत से खिलवाड़

जागरणसंवाददाता,इटावा:जिलेकेस्वास्थ्यविभागकीलापरवाहीसेझोलाछापकेइलाजपररोकनहींलगपारहीहै।जनपदमेंतकरीबनदोहजारसेअधिकझोलाछापमरीजोंकीजानकेदुश्मनबनेहुएहैं।बावजूदइसकेबीतेवर्षमात्रचारतथाइसवर्ष7कुल11अभियानचलाएजानेकादावाकियागयाहै।इसकेबादभीकोईउचितकार्रवाईनहींकिएजानेसेउनकेहौसलेकमहोनेकानामनहींलेरहेहैं।स्वास्थ्यविभागकीलापरवाहीकाहीनमूनाहैकिबीतेवर्ष26जूनकोझोलाछापकेइलाजसेदोमरीजोंकीमौतहोगईथी।घटनामेंएकजुगरामऊकीकिशोरीतथाभरथनामेंएकबच्चेकीमौतहुईथी।इसकेबाददोमरीजोंकीमौतमाहजुलाईमेंऔरहुई।कईमामलेऐसेहैंप्रकाशमेंहीनहींआतेहैं।लोगमौतहोनेकेबादअंतिमसंस्कारकरदेतेहैं।जबकभीझोलाछापकेइलाजसेकोईहादसाहोताहै,तोस्वास्थ्यविभागभीसक्रियहोजाताहै।खानापूर्तिहीसहीविभागकीटीमेंजांचकेनामपरक्षेत्रमेंनिकलतीहैं।इसकेबादवैधानिककार्रवाईनहींकिएजानेसेइसप्रथापररोकनहींलगपारहीहै।हैरतकीबातयहकिबीतेचारमाहपूर्वआममरीजोंकीशिकायतपरस्वास्थ्यविभागकीटीमनेबीहड़क्षेत्रकेउदी-आगरारोडकेकिनारेबसेकईक्षेत्रोंमेंछापामारीकरकेतीनझोलाछापपकड़ेथे,उनपरकोईकार्रवाईनहोनेकाहीपरिणामसामनेआयाकिवहआजभीअपनीगतिविधियोंकोसंचालितकिएहुएहैं।

सख्तकदमनउठाएजानेकाउठातेहैंलाभ:मौसममेंपरिवर्तनहोनेकेसाथहीइससमयकस्बासेलेकरग्रामीणक्षेत्रकेगांवोंमेंअनेकतरहकीमौसमजनितबीमारियांफैलीहुईहैं।जिलाअस्पतालोंमेंचिकित्सकोंकीकमीकालाभउठाकरहीझोलाछापसक्रियहोकरमरीजोंकोदोहनकरनेमेंजुटेहुएहैं।स्वास्थ्यविभागद्वारासख्तकदमनउठाएजानेकालाभयहलोगउठानेसेपीछेनहींरहरहेहैं।

जिलेमेंचिकित्सकोंकीस्थिति:-इटावा----42

-इकदिल---01जिम्मेदारबोले:कार्यालयमेंनिजीनर्सिंगहोग,प्रसूतिगृह,एलोपैथिकक्लीनिक,आयुर्वेदिकक्लीनिक,यूनानीक्लीनिकवहोम्योपैथिकक्लीनिकोंकोमिलाकर303कापंजीयनहैं।झोलाछापपरनजररखीजारहीहै,जहांसेभीजानकारीमिलतीहैनोडलअधिकारीछापामारकार्रवाईकरतेहैं।-डा.एकेअग्रवाल,मुख्यचिकित्साधिकारी