कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में इंजीनियर बनने का सपना

जागरणसंवाददाता,इटावा:संतविवेकानंदस्कूलमेंविज्ञानवर्गकेछात्रशाश्वतगर्गनेइंटरमीडिएटमें97फीसदअंकप्राप्तकरनेजनपदमेंदूसरास्थानप्राप्तकियाहै।उसकीकंप्यूटरसाइंसकेक्षेत्रमेंविशेषरूचिहै,इसकेतहतआइआइटीमेंप्रवेशपाकरइंजीनियरबननेकासपनासंजोएहुएहै।इसकेतहतवहजेईईएडवांसकीपरीक्षादेचुकाहै।

शाश्वतगर्गकेपिताबलराजगर्गव्यवसायकेक्षेत्रमेंउसकीमांराखीमित्तलगर्गशिक्षिकाहैं।शाश्वतकोशिक्षाकेक्षेत्रमेंअग्रणीरखनेकेलिएउसकीमांकीविशेषभूमिकाहै।शाश्वतकाकहनाहैकिपढ़ाईकेलिएसमयनिर्धारणआवश्यकनहींहै।रोजानालक्ष्यनिर्धारितकरनाजरूरीहै।इसकेतहतस्कूलमेंचेयरमैनविवेकयादवतथाप्रधानाचार्यआनंदमोहननेऐसावातावरणबनारखाहैकिहरछात्रकोशिक्षाकेहरक्षेत्रमेंआगेबढ़नेकाअवसरप्राप्तहोताहै।उन्होंनेभौतिकविज्ञानमें95,रसायनविज्ञानमें98,गणित98,कंप्यूटरसाइंस98तथाइंग्लिशमें96कुल500में485अंकप्राप्तकिए।अबइंजीनियरबननेकेलिएसार्थकप्रयासकरुंगा।