Kumbh Mela 2019 : गुजरात से भी आए श्रद्धालु, संगम में डुबकी लगाने से पहले रचाया रास

स्नानघाटपररासरचारहेथेश्रद्धालु:हमसंगमतटपरपहुंचेतोएकजत्थास्नानघाटपरपहुंचनेकीखुशीमेंरासलीलाकररहाथा।आसपासमौजूदलोगभीउनकीइसखुशीमेंशरीकहोतेनजरआए।बातचीतकेदौरानइसजत्थेमेंशामिलएकसदस्यलिंबूभाईमाठियानेबतायाकिहमश्रीकृष्णकीनगरीद्वारकासेआएहैं।नृत्यकेबारेमेंउन्होंनेबतायाकिअपनेभगवानकोप्रसन्नकरनेकेलिएयहहमाराप्रयासहै।

गुरुकेसाथगुजरातसेआएथेश्रद्धालु:लिंबूभाईमाठियानेबतायाकिवेबनासकांठाकेमहामंडलेश्वरस्वामीघनश्यामपुरीकेसाथगुजरातसेआएहैं।उनकेसाथकरीब500शिष्योंकाजत्थाप्रयागराजआयाहुआहै।माठियाकेमुताबिक,गुरुकेआनेमेंकुछदेरहोनेकेकारणकुछपुरुषऔरमहिलाएंरासलीलाखेलरहेथे।आसपासकेलोगइसेदेखकरचौंके,लेकिनउनकेभक्तिभावकोदेखहरकोईमंत्रमुग्धहोगया।

खुशीमेंरोनेलगेश्रद्धालु:लिंबूभाईनेबतायाकिहमरासरचारहेहैंऔरशिवस्तुतिभीकरेंगे।यहहमेंनईऊर्जादेगा।वहीं,गंगास्नानकेबादकाफीयुवाओंनेअपनेमाता-पिताकेपैरछूकरआशीर्वादलिया।परिवारकेबुजुर्गोंकोगंगास्नानकरानेकेबादकईलोगइतनेभावुकहोगएकिएक-दूसरेसेलिपटकररोपड़े।कुछलोगोंनेबुजुर्गोंकोस्नानकरानेकेबादउन्हेंमालापहनाकरशगुनभीदिया।