लद्दाख को केन्द्र शासित प्रदेश बनाने से लेह और करगिल की समस्याओं का भी पता चल सकेगा:रिपोर्ट

नयीदिल्ली,छहअगस्त(भाषा)लद्दाखकोकेन्द्रशासितप्रदेशबनानेकाकेन्द्रसरकारकानिर्णयराजनीतिकरूपसेअलगथलगहोनेकीशिकायतकरनेवालेक्षेत्रकेलिएस्वागतयोग्यकदमहोसकताहैलेकिनइसकदमसेबौद्धबहुललेहऔरमुस्लिमबहुलकरगिलक्षेत्रकेबीचदिक्कतोंकापताचलसकताहै।रिपोर्टोंमेंयहबातकहीगईहै।नएनिर्णयकेअनुसारलद्दाखबिनाविधायिकावालाएककेन्द्रशासितक्षेत्रहोगा।करीब60हजारवर्गकिलोमीटरक्षेत्रमेंफैलेकमजनसंख्यावालेइसक्षेत्रकेनेताओंकीशिकायतरहीहैकिसत्ताकेगलियारोंमेंलद्दाखकादखलनकेबराबरहै।रिपोर्टोंमेंकहागयाहैकिलद्दाखकोजम्मूकश्मीरसेअलगकरनेकेनिर्णयपरक्षेत्रकेदोजिलोंमेंअलगअलगप्रतिक्रियाएंहुईंहैं।लेहकेएकनिवासीनेबतायाकिकरगिलमेंनेताओंनेदोदिनकीहड़तालबुलाईहै।उनकाकहनाहैकिवेनहींचाहतेकिकरगिलजिलानएकेन्द्रशासितप्रदेशकाहिस्साहो।उनकाकहनाहैकिइसेजम्मूकश्मीरकेसाथहीहोनाचाहिएथा।लद्दाखकासबसेबड़ाशहरहैलेहऔरइसकेबादआताहैकरगिल।भाजपाऔरकांग्रेसकेप्रमुखनेताओंनेसरकारकेकदमकास्वागतकियाहै।क्षेत्रसेभाजपालोकसभासदस्यजाम्यांगशीरिंगनामग्यालनेकहा,‘‘लद्दाखकीजनताकेलिएऐतिहासिकदिनहै,जिसेकोषसाझाकरनेऔररोजगारकेमामलेमेंपूर्ववर्तीसरकारोंसेभेदभावऔरसौतेलाबर्तावहीमिलाहै।’’लद्दाखबुद्धिस्टएसोसिएशनकेअध्यक्षपीटीकुंजांग,पूर्वसांसदथूपस्तानछेवांग,कांग्रेसनेताएवंपूर्वविधायकशीरिंगसाम्फेल,एमएलसीचेरिंगदोरजे,कांग्रेसजिलाध्यक्षशीरिंगनामग्यालऔरस्थानीयभाजपाअध्यक्षदोरजेअंगचुकनेभीइसकदमको‘ऐतिहासिक’करारदिया।रिपोर्टोंकेअनुसारपड़ोसीकरगिलजिलेमेंनेताओंनेइसकदमपरदुखव्यक्तकियाहै।कांग्रेसकेअसंतुष्टनेताएवंपूर्वविधायकअसगरअलीकर्बलायीनेकहा,‘‘यहकालादिनहै,नकेवलजम्मूकश्मीरकेलिएबल्किपूरेदेशकेलिए।हमधर्म,भाषाऔरक्षेत्रकेआधारपरजम्मूकश्मीरकेविभाजनकेविरोधमेंहैं।’’वहींनेशनलकॉन्फ्रेंसऔरपीपुल्सडेमोक्रेटिकपार्टीकेसमर्थनसेलोकसभाचुनावलड़नेवालेसज्जादहुसैननेकहाकिकरगिलकेलोगकश्मीरकाहिस्साबनेरहनाचाहतेहैं।हुसैनचुनावहारगएथे।