लंबे इंतजार के बाद पुल का शिलान्यास

संवादसहयोगी,रुद्रप्रयाग:लंबेइंतजारकेबाद46मीटरलंबेकोटेश्वर-तिलणीस्टीलगार्डरपुलकाविधिवतशिलान्यासहोगया।इससेधनपुर,रानीगढ़क्षेत्रकीजनताकोजिलाकलक्ट्रेट,विकासभवन,जजकोर्टकेआवागमनमेंसहूलियतमिलेगी।पुलबननेकेबादलोगोंकोरुद्रप्रयागबाजारसेघूमकरनहींआनापड़ेगा।

शुक्रवारकोविधायकभरतसिंहचौधरीनेलगभग86लाखकीलागतसेबननेवालेकोटेश्वर-तिलणीस्टीलगार्डरपुलकाशिलान्यासकिया।विधायकनेकहाकिक्षेत्रकेलोगोंकीबड़ीमांगथी,इसपुलकोप्राथमिकताकेआधारपररखाजाए।वर्ष2018मेंइसपुलकेलिएशासनसेबजटकीस्वीकृतिमिली।पुलबननेसेतल्लानागपुरवरानीगढ़,धनपुरक्षेत्रकीजनताकोफायदामिलेगा।जिलेकेसभीमहत्वपूर्णविभागकोटेश्वर,बेलाखुरड़मेंस्थापितहैं।कहाकोटेश्वरमें60केदशकमेंबनेकोटेश्वर-तिलणीझूलापुलसेक्षेत्रीयलोगोंकालगातारआवागमनहुआकरताथा,लेकिन2003मेंपुलकेक्षतिग्रस्तहोनेकेबाद2008मेंइसेआवागमनकेलिएपूर्णत:बंदकियागयाथा।लोनिविकेअधिशासीअभियंताइन्द्रजीतबोसनेकहाकिराज्ययोजना(नाबार्ड)केअंतर्गत85.93लाखकीलागतसे46मीटरस्पानकेस्टीलगार्डरपुलकानिर्माणकरायाजाएगा।पुलको2020तकआवागमनकेलिएतैयारकियाजाएगा।पुलसेदोपहियावाहनभीगुजरसकेंगे।पुलकाशिलान्यासहोनेपरसौड़,खुरड़,बेलासहिततल्लानागपुरवरानीगढ़,धनपुरक्षेत्रकीजनतामेंखुशीकीलहरहै।इसमौकेपरभाजपाजिलाध्यक्षविजयकप्रवाण,महामंत्रीअजयसेमवाल,कोटेश्वरमहंतशिवानंदगिरी,भूपेंद्रभंडारी,सभासदसुरेंद्ररावत,लक्ष्मणकप्रवाण,उमादेवी,गंभीरबिष्ट,दीपकरावत,घनश्यामपुरोहित,सुनीलनौटियाल,दिनेशबिष्टसहितबड़ीसंख्यामेंस्थानीयजनतामौजूदथी।