लोकसभा ::: जहां जा रहे हैं वहीं तोप खड़ा पा रहे हैं

इटखोरी:जनाबकीकिस्मतमेंलगताहैलोहेकाचनाचबानाहीलिखाहै।तभीतोजहांजारहेहैंवहींसामनेतोपखड़ापारहेहैं।जनाबकीतमन्नाचतरासेलोकसभाचुनावलड़नेकीहै।इसकेलिएमहागठबंधनदलकेकिसीपार्टीकेटिकटकीदरकारहै।खुदकोराजनीतिकामौसमवैज्ञानिकमानकरइन्होंनेएकवर्षपहलेराजदकादामनथामलियाथा।इतनाहीनहींखुदकोमहागठबंधनकाघोषितउम्मीदवारकेरूपमेंभीप्रस्तुतकरदियाथा।कुछछुटभैयानेताओंनेजनाबकोऐसाऐसासपनाभीदिखादियाथाकिजनाबचुनावसेपहलेहीखुदकोसांसदसमझनेलगेथे।ऐसीखुशफहमीमेंउन्होंनेसौगातबाटनीशुरूकरदीथी।लेकिनइसीबीचलालटेनवालीपार्टीकेपुनपुनवालेशूरवीरकीचतरामेंएंट्रीहोगई।शुरुआतमेंतोजनाबनेपैतराबांधकरपुनपुनवालेशूरवीरकोचतरासेखदेड़नेकीखूबमुहिमचलाई।लेकिनपुनपुनवालेशूरवीरनेहीजनाबकोहीठंडाकरदिया।लालटेनकीबत्तीबुझतीदेखजनाबहाथकासाथलेनेकांग्रेसमेंशामिलहोगए।लेकिनअबयहांभीजनाबकोपताचलरहाहैकिहाथवालीपार्टीसेभीकोईतोपचतरासेउतरनेकीतैयारीमेंहै।