मानसिक स्वास्थ्य एक चुनौती है , संतुलन बनाये रखना जरूरी : द्रविड़

नयीदिल्ली,29नवंबर(भाषा)भारतकेपूर्वकप्तानऔरचैम्पियनबल्लेबाजराहुलद्रविड़कामाननाहैकिक्रिकेटजैसेकठिनखेलमेंमानसिकस्वास्थ्यबनायेरखनाबड़ीचुनौतीहैऔरखिलाड़ियोंकोव्यस्तकार्यक्रमऔरअनिश्चितभविष्यकेतनावसेनिपटनेकेलियेसंतुलनबनानाचाहिये।ईएसपीएनक्रिकइन्फोसेबातचीतमेंद्रविड़नेकहाकिक्रिकेटसेदूररहकरसामंजस्यबिठानाकठिनहोताहै।उन्होंनेकहा,‘‘यहबड़ीचुनौतीहै।क्रिकेटकठिनखेलहै।इतनीप्रतिस्पर्धाऔरदबावहैऔरलड़केसालभरखेलतेहैं।कईबारइसखेलमेंआपकोइंतजारकरनाहोताहैऔरसोचनेकाकाफीसमयहोताहै।’’ग्लेनमैक्सवेलऔरयुवाविलपुकोस्वस्कीसमेततीनआस्ट्रेलियाईक्रिकेटरोंनेमानसिकस्वास्थ्यकाहवालादेकरखेलसेब्रेकलियाहै।राष्ट्रीयक्रिकेटअकादमीकेनिदेशकद्रविड़नेकहाकिकड़ीप्रतिस्पर्धाकेबीचखिलाड़ियोंकोअपनेस्वास्थ्यकाध्यानरखनाचाहिये।उन्होंनेकहा,‘‘आपकोमैदानकेभीतरऔरबाहरअपनेस्वास्थ्यकाध्यानरखनाहोगा।संतुलनबनायेरखनाजरूरीहै।सफलतामिलनेपरबहुतरोमांचितनहोंऔरनाकामरहनेपरनिराशभीनहींहो।’’द्रविड़नेकहाकिवहएनसीएमेंऐसीव्यवस्थाबनानाचाहतेहैंकिजरूरतपड़नेपरखिलाड़ीकोपेशेवरमददमिलसके।उन्होंनेकहा,‘‘अभीकामचलरहाहैऔरऐसासमयआयेगाजबजरूरतपड़नेपरहरखिलाड़ीकोपेशेवरमददमिलसकेगी।कईमसलोंसेकोचयाहमपारनहींपासकते।ऐसेमेंपेशेवरोंकीमददजरूरीहोतीहै।’’जनवरीफरवरीमेंहोनेवालेअंडर19विश्वकपकेबारेमेंउन्होंनेकहाकिजोटीममेंनहींचुनेजायें,उनकेलियेरास्तेखत्मनहींहोते।इसीतरहटीममेंजगहपानेवालोंकोयहनहींमानलेनाचाहियेकिउनकासीनियरटीममेंचयनतयहै।भारतीयतेजगेंदबाजोंकीतारीफकरतेहुएउन्होंनेकहा,‘‘ईशांत,शमी,उमेश,भुवनेश्वरऔरबुमराहयुवाओंकेलियेरोलमाडलबनतेजारहेहैं।पहलेभीकपिल,श्रीनाथऔरजहीरजेसेगेंदबाजहुएहैंलेकिनएकईकाईकेरूपमेंयहभारतकासर्वश्रेष्ठतेजआक्रमणहै।’’