मोबाइल बना जान का खतरा, दग रही बैटरी

गोंडा:आंगनबाड़ीकार्यकर्ताओंकीसमस्याओंकासमाधानकरानेकीमांगकोलेकरशनिवारकोमहिलाआंगनबाड़ीकर्मचारीसंघकेपदाधिकारियोंनेकलेक्ट्रेटपरिसरमेंप्रदर्शनकिया।कहागयाकिमोबाइलफोनसेजानकाखतराहै।कारणइसकीबैटरीदगजारही।

प्रदेशमहामंत्रीनीलमपांडेयकीअगुवाईमेंपदाधिकारियोंनेछहसूत्रीमांगोंकोलेकरज्ञापनडीएमकोसौंपा।इसमेंविभागीयकार्यकेअलावाकोईअन्यकार्यनलिएजानेकीमांगकीगई।पदाधिकारियोंनेबतायाकिचार्जकरनेपरमोबाइलकीबैटरीगर्महोनेकेसाथहीफूलजातीहै।कईदगचुकीहै।यहीनहींमोबाइलरिचार्जकीभीकोईव्यवस्थानहींकीगई।शासनकेनिर्देशकेबावजूदलाभार्थियोंकेनामकीफीडिगमुख्यसेविकासेनहींकराईजारहीहै।एकहीपरियोजनामें10-15वर्षसेतैनातमुख्यसेविकाकोदूसरीपरियोजनामेंतैनातकियाजाए।स्वास्थ्यविभागआंगनबाड़ीकार्यकर्ताओंसेकार्यतोलेरहाहैलेकिन,भुगताननहींकररहाहै।प्रदेशउपाध्यक्षराजेशदीक्षित,मंडलसंरक्षकराजेशश्रीवास्तव,जिलाध्यक्षप्रेमकुमारीयादव,नीराजायसवाल,संगमलालशर्माशामिलरहे।इनसेट

रिटायर्डजजसेकराईजाएन्यायिकजांच

-प्रतापगढ़जिलेमेंहुएपोषाहारघोटालेकीजांचरिटायर्डजजसेकरनेकीमांगमुख्यमंत्रीसेकीगई।आंगनबाड़ीकर्मचारीयूनियनकीकार्यवाहकप्रदेशअध्यक्षमीनाक्षीखरेनेमामलेकीन्यायिकजांचकराने,बर्खास्तआंगनबाड़ीकार्यकर्ताओंकोबहालकरनेकीमांगकी।इसदौरानसंतोषश्रीवास्तव,गिरजावतीमौर्या,गीताचौधरी,सावित्री,निर्मलागौड़,राधावनीलमश्रीवास्तवमौजूदरहीं।वहीं,महिलाआंगनबाड़ीकर्मचारीसंघनेभीन्यायिकजांचकीमांगकी।