पबजी को फिर शुरू किए जाने के पक्ष में नहीं है एनसीपीसीआर

नयीदिल्ली,11नवंबर(भाषा)राष्ट्रीयबालअधिकारसंरक्षणआयोग(एनसीपीसीआर)नेकहाहैकिवहउचितकानूनोंकेबननेतकमशहूरऑनलाइनगेमिंगऐपपबजीकोभारतमेंफिरसेशुरूकिएजानेकेपक्षमेंनहींहै।इसीसालसितंबरमेंभारतने118चीनीमोबाइलऐपकोप्रतिबंधितकियाथाजिनमेंपबजीभीथा।सरकारनेकहाथाकियेऐपभारतकीसंप्रभुताएवंअखंडता,देशकीरक्षाऔरसुरक्षातथालोकव्यवस्थाकेलिएहानिकारकहैं।पबजीनेभारतमेंअपनीसेवाएंफिरसेशुरूकरनेकेलिएसरकारसेअनुमतिमांगीहै।अधिकारियोंनेबतायाकिइसमुद्देपरबुलाईगईबैठकमेंएनसीपीसीआरकेअध्यक्षप्रियंककानूनगोनेकहाकिभारतमेंउचितकानूनबननेतकपबजीकोफिरसेशुरूनहींकियाजानाचाहिए।इसबारेमेंपूछेजानेपरकानूनगोने‘पीटीआई-भाषा’सेकहा,‘‘यहएकआंतरिकबैठकथी।प्रथमदृष्टया,एनसीपीसीआरदेशमेंइसतरहकेगेमकोशुरूकरनेकीअनुशंसाकेपक्षमेंनहींहै।’’एकवरिष्ठअधिकारीनेबतायाकिबैठकमेंइसकाउल्लेखकियागयाकिइसगेमकेकारणदेशमेंकईलोगोंकीजानगईंहैं।पबजीकीओरसेफिलहालकोईप्रतिक्रियानहींआयीहै।