पिता की हत्या में दो पुत्रों को आजीवन कारावास

नवादा।संपत्तिविवादमेंपिताकीहत्याकेआरोपीदोपुत्रोंकोआजीवनकारावासतथाअर्थदंडकीसजासुनाईगईहै।जिलाएवंसत्रन्यायाधीशरूद्रप्रकाशमिश्रानेयहसजाशनिवारकोरजौलीथानाकेमाथाडीहधमनीकेधनेश्वरयादववकुलदीपयादवकोसुनाई।दोनोंपर15-15हजाररुपयेअर्थदंडभीलगायागयाहै।

लोकअभियोजकशमशुद्ीनखांनेबतायाकिरजौलीथानाक्षेत्रकेमाथाडीहधमनीनिवासीचान्दोयादवकोतीनपुत्रथे।दोपुत्रधनेश्वरयादववकुलदीपयादवसंपत्तिबंटवाराकोलेकरपितापरदबाबबनाएहुएथे।पिताअपनेतीनोंपुत्रोंकेबीचपंचायतकेद्वारासंपत्तिकोबराबरबांटदेनाचाहतेथे।जिससेखारखाएदोनोंपुत्रोंधनेश्वरवकुलदीपनेटॉगीसेप्रहारकरपिताकोगंभीररूपसेजख्मीकरदियाथा।जिससेउनकीमौतहोगईथी।दोनोपुत्रोंनेघरमेंहीघटनाकोअंजामदियाथा।घटना03मार्च16कीबताईजातीहै।इससंबंधमेंमृतककेबड़ेपुत्रसूरजयादवकीशिकायतपररजौलीथानामेंकांडसंख्या47/16दर्जकियागयाथा।जिसमेंदोनोभाईआरोपितकिएगएथे।पुलिसद्वाराचिन्हितगवाहोंकाबयानअदालतमेंदर्जकरायागयाथा।न्यायाधीशनेगवाहोंकेबयानकाअवलोकनकरनेकेबाददोनोंआरोपितोंकोभादविकीधारा302/34केतहतउम्रकैदतथाप्रत्येकको15हजाररुपयेकाअर्थदंडकीसजासुनाई।अर्थदंडकीराशिमृतककीपत्नीकोदिएजानेकाआदेशदियागयाहै।सजासुनाएजानेकेबाददोनोंआरोपितोंकोकड़ीसुरक्षाकेबीचजेलभेजदियागया।