पंजाब में तीन चौथाई बहुमत से सरकार चलाने वाली कांग्रेस इस समय दिशाहीन

चंडीगढ़,राज्यब्यूरो।पंजाबमेंतीनचौथाईबहुमतसेसरकारचलानेवालीकांग्रेसइससमयदिशाहीनहोगईहै।विधानसभाचुनावमेंमिलीकरारीहारकेबादउम्मीदकीजारहीथीकिपार्टीहाईकमानऔरवरिष्ठनेताकुछसबकलेंगे,लेकिनमहंगाईकेखिलाफचंडीगढ़मेंदिएगएधरनेमेंजिसतरहसेनेताआपसमेंहीभिड़गएवहनिराशाजनकहै।यहधरनाकेंद्रसरकारकेखिलाफथा,लेकिनकांग्रेसकेनेताओंनेज्यादासमयअपनीहीपार्टीकेवरिष्ठनेताओंकीआलोचनाऔरटीका-टिप्पणीमेंलगाया।सबसेज्यादाआश्चर्यतबहुआजबकांग्रेसकेपूर्वप्रदेशअध्यक्षनवजोतसिंहसिद्धूऔरयूथकांग्रेसकेप्रदेशअध्यक्षबरिंदरसिंहढिल्लोंआपसमेंहीभिड़गए।येदोनोंशांतहोतेइससेपहलेपार्टीकेप्रवक्ताबलजीतचहलभीसिद्धूसेउलझपड़े।

यहभीअप्रत्याशितरहाकिइसअवसरपरकईपूर्वमंत्रीऔरवरिष्ठनेताउपस्थितथे,लेकिनउनकीओरसेयहविवादशांतकरनेकाप्रयासनहींकियागया।कैप्टनअमरिंदरसिंहकोमुख्यमंत्रीपदसेहटानेकेलिएजबपार्टीकेकईविधायकोंनेनवजोतसिद्धूकेनेतृत्वमेंमोर्चाखोलाथातबकैप्टननेइसेअनुशासनहीनतामानतेहुएहाईकमानसेशिकायतकीथी।कैप्टनकेकांग्रेससेइस्तीफादेनेकेबादजिसतरहसेपार्टीमेंखींचतानशुरूहुईथीवहथमनेकानामनहींलेरहीहै।विधानसभाचुनावमेंकांग्रेसकीकरारीपराजयकेकारणोंमेंयहभीप्रमुखकारणहै।

हाईकमाननेसिद्धूकोप्रदेशअध्यक्षतोबनादियाथा,लेकिनचुनावकेदौरानवहअपनीभूमिकाकाउसतरहसेनिर्वाहनहींकरसकेजैसीहाईकमानकोउनसेउम्मीदथी।चरणजीतसिंहचन्नीकोमुख्यमंत्रीपदकाचेहराघोषितकिएजानेकेबादसिद्धूएकतरहसेअपनेविधानसभाक्षेत्रतकसीमितहोगए।इससेपार्टीमेंगलतसंदेशगयाऔरकईनेताओंकीनाराजगीअबभीदूरनहींहुईहै।कांग्रेसमेंदिशाहीनताकेकईउदाहरणहैं।