प्राध्यापकों, शोधार्थियों और विद्यार्थियों ने ली नशा न करने की शपथ

जागरणसंवाददाता,रोहतक:मादकपदार्थोकासेवननकरने,नकरनेदेनेऔरविश्वविद्यालयपरिसरसमेतपूरेसमाजमेंड्रग-फ्रीपरिवेशबनानेकेलिएमंगलवारकोमदविमेंजागरूकताकार्यक्रमकाआयोजनकियागया।आइएचटीएममेंआयोजितइसकार्यक्रममेंविश्वविद्यालयकेप्राध्यापकों,शोधार्थियोंऔरविद्यार्थियोंनेनशानकरनेकीशपथली।

डीनस्टूडेंट्सवेलफेयरप्रो.राजकुमारनेकहाकिसमाजमेंयुवावर्गमादकपदार्थोंऔरअल्कोहलकेनशेकाआदीपरबनताजारहाहै।यहनकेवलस्वास्थ्यकेलिएहानिकारकहै,बल्किउनकेपरिवारअसैासमाजकेलिएभीनुकसानदायकहै।यदिहमेंस्वस्थसमाजकानिर्माणकरनाहैतोइसमेंनशाखोरीकोखत्मकरनाहोगा।

डीनएकेडमिकअफेयर्सप्रोफेसरअजयकुमारराजननेकहाकिहमेंमानसिकशारीरिकऔरआध्यात्मिकस्वास्थ्ययानिकीसमग्रस्वास्थ्यकेबारेमेंसोचनाहोगा।उन्होंनेकहाकिपढ़ाई-लिखाईकेसाथ-साथअच्छेस्वास्थ्यकीओरभीविद्यार्थियोंकोध्यानदेनाहोगा।इसीप्रकारलाइफ-वर्कबैलेंसपरभीप्राध्यापकोंऔरविद्यार्थियोंकोध्यानदेनाहोगा।प्रोफेसरराजननेअध्यात्मिकगुरुश्रीश्रीरविशंकरकेआर्टऑफलि¨वगकेसदप्रयासोंकाविशेषउल्लेखकिया।

निदेशकजनसंपर्कसुनीतमुखर्जीनेजीवनकेविकटपरिस्थितियोंकासामनाकरनेकेलिएमानसिकविकासकाआह्वानकरतेहुएअल्कोहलतथाअन्यमादकपदार्थोंकासेवननकरनेकीसलाहदी।उन्होंनेनशाखोरीकोबढ़ावादेनेवालेनारको-टेरेरिज्मकेबारेमेंभीबताया।कार्यक्रमकेआयोजनमेंनिदेशकआइएचटीएमप्रोफेसरआशीषदहिया,निदेशककंप्यूटरसाइंसडा.जीपीसरोहाऔरसहायकनिदेशकयुवाकल्याणडा.प्रतापराठीवअन्यनेविशेषसहयोगदिया।इसअवसरपरप्रोफेसरहुकमचंद,डा.जगदीप¨सगला,डा.सरबजीतगिल,डा.अंजूधीमान,डा.राजेशकुंडू,डा.संजीवकुमार,डा.मनोजकुमार,डा.संदीपमलिकवअन्यशोधार्थीऔरविद्यार्थीउपस्थितरहे।