पराली लाएगी खुशहालीः पठानकोट के किसान ने 15 वर्ष से नहीं जलाई पराली, खाद बना कमाया मुनाफा

संवादसहयोगी,घरोटा(पठानकोट)। परालीजलानेकेकारणफैलताप्रदूषणसरकारकेलिएहरवर्षमुसीबतखड़ीकरताहै।परंतुक्षेत्रमेंबहुतसेऐसेकिसानहैंजोपरालीनहींजलातेहैं।बल्किउसेउपयोगमेंलाकरअपनीआमदनभीबढ़ारहेहैं।ऐसेहीकिसानोंमेंसेहैंकिसानगौरव,राजीवठाकुर,सुमितशर्मा।गौरवकहतेहैंउन्होंने15वर्षसेपरालीनहींजलाई,बल्किउसेउपयोगकरखादबनारहेहैं।इसकेअलावाउक्ततरीकेअपनाकरकिसानसुमितशर्माभीपरालीसेमुनाफाकमारहेहैं।

खुंभकीफसलकेलिएपरालीबढ़ियाखाद:किसानगौरव

किसानगौरवकहतेहैंकिखुंभकीफसलतैयारकरनेकेलिएपरालीकाबतौरकंपोस्टइस्तेमालशुरूहोगयाहै।साथहीपरालीकोसूखेचारेकेरूपमेंप्रयोगकरनेकेलिएचौपरमशीनकीमददसेकाटइसेस्टोरकरनेकीप्रक्रियाभीकिसानअपनारहेहैं। पठानकोटकेझालोयामेंपरालीकाप्रयोगकरइससेकंपोस्टतैयारकरइसेदेसीखादकारूपदियाजारहाहै।इसप्रक्रियामेंएकमाहकासमयलगताहै।चौपरमशीनकीमददसेकिसानपरालीकोकाटकरपहलेउसकेटुकड़ेकरलिएजातेहैंऔरफिरउसेकंपोस्टमेंबदलाजाताहै।गौरवनेबतायाकि15वर्षोंसेवहपरालीनहींजलारहेहैं।इसेखादकेरूपमेंइस्तेमालकररहेहैं।इससेउनकीफसलअच्छीहोरहीहै।आमदनीमेंभीइजाफाहुआहै।

कैटलपाउंडवगुज्जरसमुदायकोदेदेतेहैंपराली:राजीवठाकुर

संवादसहयोगी,माधोपुर:गांवथरियालकेकिसानराजीवठाकुरनेबतायाकिवहपरालीनहींजलाते।धानकीकटाईकेबादपरालीकोरोटावेटरमशीनसेखेतमेंहीजोतदेतेहैं।इससेएकतोप्रदूषणनहींफैलता,वहींखेतकोखादभीमिलजातीहै।हमाराक्षेत्रकंडीहैतथायहांपहलेहीचारेकीकमीहै।वहींगुज्जरसमुदायकेलोगपरालीकाटकरलेजातेहैं।इससेप्रदूषणफैलनेकाकोईभयनहींरहता।उन्होंनेकिसानोंसेअपीलकीकिमशीनरीकाउपयोगकरेंवपरालीकोनजलाएं।

किसानसुमितशर्माऔरराजीवठाकुरकीफाइलफोटो।

परालीबेचकरडेढ़लाखहरसीजनमेंकमातेहैंकिसानसुमित

संवादसहयोगी,बमियाल:बार्डरएरियाकेगांवरमकालवाकेकिसानसुमितशर्मापिछलेचारवर्षोंसेधानकेहरसीजनमेंपरालीबेचकरडेढ़लाखरुपयेकमारहेहैं।सुमितनेबतायावह70एकड़भूमिमेंधानकेफसलकरतेहैं। फसलकीकटाईकेबादखेतमेंबचनेवालीपरालीकोगुज्जरसमुदायकेलोगपशुओंकेचारेकेलिएखरीदलेतेहैं।इससेउन्हेंहरधानकेसीजनमेंअतिरिक्तआमदनीभीहोतीहै।उन्होंनेबतायाकिइससेपूर्वमेंवहमजबूरीमेंपरालीकोजलातेरहेहैं।पिछलेकुछवर्षसेपरालीकोलेकरपंजाबसरकारकीओरसेशुरूकिएगएजागरूकताकार्यक्रमसेप्रेरितहोकरउनकीओरसेनिश्चयकियागयाकिजहांतकहोसकेखेतोंमेंपरालीकोजलानेकेबजायइसकासदुपयोगकरेंगे।अबयहआमदनीकासाधनबनगईहै।