प्रसव के समय मौत की सूचना देने पर मिलेगी प्रोत्‍साहन राशि, कैमूर सीएस बोले- जागरूकता का अभाव

भभुआ,जागरणसंवाददाता।सुरक्षितप्रसवकेलिएसंस्थागतप्रसवकीसलाहसभीगर्भवतीमहिलाओंकोदीजातीहै।लेकिनकईबारसंस्थागतप्रसवकेदौरानबेहतरस्वास्थ्यसेवाओंकेअभावमेंप्रसूतिमहिलाओंकोकईतरहकीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़ताहै।कभीकभीदुर्भाग्यवशमृत्युभीहोजातीहै।सुरक्षितमातृत्वआश्वाशनकार्यक्रम“सुमन”केतहतअबजिलेमेंगर्भवतीमहिलाओंकोबेहतरस्वास्थ्यसेवाएंउपलब्धकराईजारहींहैं।महिलाओंकाविश्वाससंस्थागतप्रसवकीतरफबढ़ाहैऔरयहराष्ट्रीयस्वास्थ्यसर्वेक्षणकेआंकड़ोंसेस्पष्टहोताहै।

गर्भवतीमहिलाओंकोमिलरहीबेहतरस्वास्थ्यसेवाएं

प्रभारीसिविलसर्जनडॉ.जे.एन.सिंहनेबतायाकिसुमनकार्यक्रमकामुख्यउद्देश्यप्रसूतिमहिलाओंकोबेहतरस्वास्थ्यसेवाएंसुनिश्चितकरनाहै।मातृएवंशिशुमृत्युदरमेंकमीलानेकेलिएसरकारद्वाराकईकार्यक्रमचलाएजारहेहैंलेकिनजागरूकताकेअभावमेंमेंकईबारसमुदायकेलोगइसकालाभनहींउठापारहेहैं।सुमनकार्यक्रमकेतहतगर्भवतीमहिलाओंप्रसवकेउपरांतछहमहीनेतकप्रसूतिमहिलाओंएवंउनकेनवजातशिशुकोनिशुल्कगुणवत्तापूर्णस्वास्थ्यसेवासुनिश्चितकरनाहै।

प्रसवकेदौरानमातृमृत्युकीसूचनादेनेपरमिलेगीप्रोत्साहनराशि

सुमनकार्यक्रमकेतहतशत-प्रतिशतमातृमृत्युदरकीरिपोर्टिंगकालक्ष्यनिर्धारितहै।इसकेलिएसबसेपहलेमातृमृत्युकीसूचनादेनेवालेव्यक्तिकोएकहजाररुपयेप्रोत्साहनराशिकेरूपमेंदीजातीहै।जबकिमृत्युके24घंटेकेअंदरस्थानीयपीएचसीमेंसूचनादेनेपरआशाकार्यकर्ताकोभीदोसौरुपयेकीप्रोत्साहनराशिदीजातीहै।इसकेअलावाइससंबंधमेंकिसीप्रकारकीपरेशानीहोनेपर104टोलफ्रीनंबरपरकॉलकरशिकायतदर्जकराईजासकतीहै।सुमनकार्यक्रमकेतहतप्रसवकेबादआवश्यकतानुसारबीमारप्रसूतिऔरशिशुकोनिशुल्कस्वास्थ्यसेवाएंउपलब्धकराईजातीहैं।जिलेकेसरकारीअस्पतालोंमेंहोताहै83.3प्रतिशतप्रसव:जिलेमेंसंस्थागतप्रसवकेआंकड़ोंमेंसुधारहोरहाहैजोसरकारीअस्पतालोंपरसमुदायकीबढ़तेविश्वासकासूचकहै।राष्ट्रीयपरिवारस्वास्थ्यसर्वेक्षण-5(2019-20)केआंकड़ोंकेअनुसारजिलेमेंसंस्थागतप्रसवकाआंकड़ा83.3प्रतिशतहैजबकिराष्ट्रीयपरिवारस्वास्थ्यसर्वेक्षण-4(2015-16)केआंकड़ोंकेअनुसारसंस्थागतप्रसवकाआंकड़ाजिलेमें80.1प्रतिशतथा।