पठानकोट आतंकी हमला: झूठ पकड़ने वाली मशीन से हुई सलविंदर की जांच

आधिकारिकसूत्रोंनेबतायाकिसिंहसेसेंट्रलफोरेंसिकएंडसाइंटीफिकलेबोरेटरीकेविशेषज्ञोंकीएकटीमपूछताछकररहीथीऔरपूछताछबुधवारकोभीजारीरहेगी।उन्होंनेबतायाकिसिंहसेपूछताछइसलिएकीजारहीहैताकि31दिसंबरकीरातपाकिस्तानकेजैशेमोहम्मदकेआतंकवादियोंद्वाराअपहरणकिएजानेकेबादहुएघटनाक्रमकापतालगायाजासके।तबहैरानीहुईथीजबसिंहनेकहाथाकिउन्हेंऔररसोइयेकोछोड़दियागयाथाजबकिउनकेसाथसफरकररहेउनकेएकमित्रराजेशवर्माकोआतंकवादियोंनेबीचरास्तेमेंलहुलूहानछोड़दियाथा।

एनआइएकेएकअधिकारीनेकहा,‘हमसहीघटनाक्रमकापतालगानाचाहतेहैंताकिजांचसहीदिशामेंआगेबढ़सके।’इसकेसाथहीसिंहकावहबयानभीकथिततौरपरअसत्यपायागयाकिवहएकदरगाहसेलौटरहेथेजहांअक्सरजातेहैं।एनआइएनेदरगाहकेसेवादारसोमराजसेभीपूछताछकीजिसनेजांचएजंसीकोबतायाकिपुलिसअधिकारीपहलीबारदरगाहआएथे।आतंकवादियोंनेवायुसेनास्टेशनपरएकजनवरीकीरातहमलाकियाथा।तीनदिनचलीमुठभेड़मेंसातजवानशहीदहोगएथेऔरछहआतंकवादीमारेगएथे।