Punjab Election 2022: क्यों सवालों के घेरे में हैं राघव चढ्ढा, किसानों के खिलाफ दिए बयान से भी मुश्किलें बढ़ीं

राघवचड्ढाकेप्रतियहगुस्साएकदिनमेंनहींपनपा।लंबेसमयसेपंजाबकीस्थानीयइकाईकेसदस्यगुस्सेमेंतोथें,लेकिनव्यक्तकरनेसेबचरहेथे।राघवचड्ढाकेकिसानोंकेबारेमेंदिएगएबयाननेगुस्सेकोऔरज्यादाभड़कादिया।

फिरोजपुरदेहातकीसीटकेउम्मीदवारआशुबांगड़कीबगावतकेबादआमआदमीपार्टी(AAP)कीपंजाबइकाईमेंराघवचड्ढाकेप्रतिरोषअबसार्वजनिकहोगयाहै।हालांकिराघवचड्ढा(RaghavChadha)केप्रतियहगुस्साएकदिनमेंनहींपनपा।लंबेसमयसेपंजाबकीस्थानीयइकाईकेसदस्यगुस्सेमेंतोथें,लेकिनव्यक्तकरनेसेबचरहेथे।राघवचड्ढाकेकिसानोंकेबारेमेंदिएगएबयाननेगुस्सेकोऔरज्यादाभड़कादिया।

राघवचड्ढानेकहाथा,चुनावलड़नेवालेकिसानजत्थेबंदियांबीजेपीकीदलालहै।किसाननेताबलबीरसिंहराजेवालपरबड़ाआरोपलगातेहुएउन्हेंबीजेपीकाएजेंटबतादियाथा।इसबयानकापंजाबमेंव्यापकविरोधहुआ।खासतौरपरकिसानोंनेइसबयानकीकड़ीनिंदाकी।अबस्थितियहहैंकिजहांजहांआमआदमीपार्टीकेउम्मीदवारप्रचारकेलिएजारहेहैं,वहांवहांकिसानउनसेयहसवालहीनहींकररहेहैं,बल्किविरोधभीकररहेहैं।आशुबांगड़नेभीअपनेत्यागपत्रमेंइसतथ्यकोस्वीकारकिया।

किसानोंकीसबसेज्यादापकड़मालवामेंहैं।यहीपरआमआदमीपार्टीभीसबसेज्यादासक्रियहै।यहांसेआमआदमीपार्टीनेपिछलेविधानसभाचुनावमें19सीटजीतीथी।इसबारभीपार्टीकोयहांसेखासीउम्मीदथी।किसानोंकेअकेलेचुनावलड़नेसेपहलेतकआमआदमीपार्टीयहांकिसानोंकोस्वागतकररहीथी।उन्हेंलगरहाथाकिकिसानजत्थेबंदियोंऔरआमआदमीपार्टीयहांमिलकरचुनावलड़सकतीहै।आमआदमीपार्टीकेरणनीतिकारोंकोलगताथाकिकिसानोंकायहसाथउन्हेंपंजाबमेंपहलीबारसत्ताकास्वादचखासकताहै।लेकिनकिसानोंकेअलगचुनावलड़नेकीघोषणासेमालवाकीतस्वीरबदलरहीहै।जोआमआदमीपार्टीएकसमयमेंराजेवालकोसीएमचेहराबनानाचाहतीथी,अबवहउन्हेंभाजपा(BJP)काएजेंटनजरआरहाहै।

राजेवालपरराघवकेदिएगएबयानकामालवामेंजबरदस्तविरोधहोरहाहै।यहांकामतदाताआपकार्यकर्तावनेताओंसेइस बयानपरसवालकररहाहै।इसकाजवाबउनकेपासनहींहै।मांझावदोआबामेंआपकेपासकरनेकेलिएज्यादाकुछनहींहै।इसतरहसेयदिमालवामेंकिसानोंकावोटआपसेखिसकगयातोपार्टीभारीसंकटमेंआसकतीहै।अगरकिसानजत्थेबंदियोंकीओरसेआमआदमीपार्टीकाविरोधइसीतरहसेजारीरहातोपार्टी2017केपरिणामकोदोहरानेमेंविफलरहसकतीहै।

जालंधरमेंसातजनवरीकोप्रेसक्लबमेंपत्रकारवार्तकेदौरानआमआदमीपार्टीकेकार्यकर्ताओं नेकड़ाविरोधकियाथा।इसदौरानहुईहाथापाईमेंराघवचड्ढाबालबालबचेथे।उन्हेंबड़ीमुश्किलसेमौकेसेनिकालागयाथा।विरोधकरनेवालोंकाआरोपथाकिकुछसमयपहलेकांग्रेससेआएरमनअरोड़ाकोरकमलेकरटिकटदीगईहै।जबकिवहांपरआमआदमीपार्टीकेजोकार्यकर्ताकामकररहेथें,उन्हेंनजरअंदाजकियाजारहाहै।इनआरोपोंकेबादआपनेअपनेचारसीनियरकार्यकर्ताओंकोपार्टीसेबाहरकरदिया।इसमेंमोहालीसे गुरतेजसिंहपन्नूअमरगढ़संगरूरसेसतवीरसिंहशीरा,फिरोजपुरसे मोड़ासिंहअंजानवजालंधरसे डॉशिवदयालमल्लीशामिलहै।मोहालीमेंजेएलपीएलकेएमडीवपूर्वअकालीनेताकुलवंतसिंहकेभीटिकटकाविरोधपार्टीमेंहोरहाहै।आरोपलगाएजारहेहैंकिटिकटदेनेमेंरकमकालेनदेनहुआहै।

आपसेनिकालेगएमोहालीकेगुरतेजसिंहपन्नूबतायाउनकीबातकोसुनातकनहींजाता।वहविरोधकरतेहैंतोउन्हेंपार्टीसेबाहरनिकालनेकीधमकीदीजातीहै।पंजाबकेलोगोंकोसुननेकीबजायपार्टीदिल्लीसेचलरहीहै।पार्टीउद्योगपतियोंकेइशारेपरकामकररहीहै।रकमलेकरटिकटदिएजारहेहैं।इसेवहकैसेबर्दाश्तकरसकतेहैं।उन्होंनेपार्टीकेलिएदिनरातकामकियाहै।क्याइसलिएकिकिसीदूसरीपार्टीसेआएहुएकोटिकटदेदियाजाए।मॉसकम्यूनिकेशनविभागाध्यक्षआशुतोषकहतेहैंकिआमआदमीपार्टीएकअलगतरहकीराजनीतिकेदावेकेसाथपंजाबमेंआईथी।पंजाबकेवहमतदाताजोबदलावचाहतेहैं,उन्होंनेपार्टीकाहाथहाथलियाहै।लेकिनचुनावआतेहीआमआदमीपार्टीकानेतृत्वभीइसीतरहकाव्यवहारकरनेलगताहैं,जैसाकिदूसरीपार्टियोंमेंहोताहै।इससेआपकाकार्यकर्तानिराशहै।विरोधकीयहभीएकबड़ीवजहहै।