राजनीति में 'आया राम गया राम' कहां से आया, जानिए भारतीय राजनीति का रोचक किस्सा

'आयारामगयाराम'वाक्यकोएकलोकप्रियजुमलाबनजानेकीबड़ीदिलचस्पकहानीहै।आयारामगयारामकाकिस्साशुरूहुआसाल1967में।इसवाक्यकोअमरकरदेनेवालेशख्सथेगयालाल।गयालालहरियाणाकेपलवलजिलेकेहसनपुरविधानसभाक्षेत्रसेविधायकचुनेगएथे।आइएआजआपकोवहकहानीसुनातेहैं...​एकहीदिनमेंतीनबारपार्टीबदलीगयालालनेउन्होंनेएकहीदिनमेंतीनबारपार्टीबदली।पहलेतोउन्होंनेकांग्रेसकाहाथछोड़करजनतापार्टीकादामनथामलिया।फिरथोड़ीदेरमेंकांग्रेसमेंवापसआगए।करीब9घंटेबादउनकाहृदयपरिवर्तनहुआऔरएकबारफिरजनतापार्टीमेंचलेगए।खैरगयालालकेहृदयपरिवर्तनकासिलसिलाजारहाऔरवापसकांग्रेसमेंआगए।कांग्रेसमेंवापसआनेकेबादकांग्रेसकेतत्कालीननेतारावबीरेंद्रसिंहउनकोलेकरचंडीगढ़पहुंचेऔरवहांएकसंवाददातासम्मेलनकिया।रावबीरेंद्रनेउसमौकेपरकहाथा,'गयारामअबआयारामहैं।'इसघटनाकेबादसेभारतीयराजनीतिमेंहीनहींबल्किआमजीवनमेंभीपालाबदलनेवालेदलबदलुओंकेलिए'आयाराम,गयाराम'वाक्यकाइस्तेमालहोनेलगा।​​आयारामगयाराम'राजनीतिकाकेंद्ररहाहैहरियाणा1980मेंभजनलालजनतापार्टीकोछोड़कर37विधायकोंकेसाथकांग्रेसमेंशामिलहोगएथेऔरबादमेंराज्यकेमुख्यमंत्रीबने।1990मेंउससमयभजनलालकीहीहरियाणामेंसरकारथी।बीजेपीकेके.एल.शर्माकांग्रेसमेंशामिलहोगएथे।उसकेबादहरियाणाविकासपार्टीकेचारविधायकधर्मपालसांगवान,लेहरीसिंह,पीरचंदऔरअमरसिंहधानकभीकांग्रेसमेंशामिलहोगए।1996मेंहरियाणाविकासपार्टीऔरबीजेपीगठबंधननेसरकारबनाई।बादमेंहरियाणाविकासपार्टीके22विधायकोंकेपार्टीछोड़नेकीवजहसेबंसीलालकोइस्तीफादेनापड़ा।हरियाणाविकासपार्टीके22विधायकआईएनएलडीमेंशामिलहोगएथे।उसकेबादबीजेपीकीमददसेओमप्रकारचौटालानेराज्यमेंसरकारबनाईथी।2009केचुनावमेंकिसीपार्टीकोस्पष्टबहुमतनहींमिलाथा।कांग्रेसऔरइंडियननैशनललोकदल(आईएनएलडी)दोनोंसरकारबनानेकीकोशिशकररहीथी।उससमयहरियाणाजनहितकांग्रेसकेपांचविधायकसतपालसांगवान,विनोदभयाना,रावनरेंद्रसिंह,जिलेरामशर्माऔरधर्मसिंहकांग्रेसमेंशामिलहोगएथे।​​अबभीजारीहैसिलसिलासाल2016मेंपीपुल्सपार्टीके43मेंसे33विधायकबीजेपीमेंशामिलहोगएथे।पहलेकांग्रेसविधायकपीपुल्सपार्टीमेंचलेगएथेऔरबादमेंबीजेपीमेंचलेगएथे।साल2018मेंगोवामेंकांग्रेसकेदोविधायकबीजेपीमेंशामिलहोगएथे।​ज्योतिरादित्यसिंधियाने18सालबादबदलीपार्टीमध्यप्रदेशकेदिग्गजनेताऔरकांग्रेससेसांसदऔरकेंद्रीयमंत्रीरहेज्योतिरादित्यसिंधियानेकांग्रेससेअपना18सालपुरानानातातोड़करकुछमहीनोंपहलेबीजेपीकादामनथामलिया।फिरबीचमेंऐसीखबरेंभीउड़ीथींकिवहबीजेपीभीछोड़सकतेहैं।