रेल निजीकरण के खिलाफ मेंस यूनियन सरकार के खिलाफ बोला हल्ला

मुंगेर।रेलनिजीकरणकेखिलाफकारखानागेटसंख्यातीनपरईस्टर्नरेलवेमेंसयूनियनकोलकाताकेआह्वानपरस्थानीयकारखानाशाखाकीओरसेएकदिवसीयधरनादियागया।धरनामेंमौजूदरेलकर्मियोंनेसरकारकीनीतियोंकेखिलाफजमकरनारेबाजीकी।

अध्यक्षताकरतेहुएशाखाध्यक्षविश्वजीतकुमारएवंसंचालनकररहेकार्यकारीअध्यक्षसंजयओझानेसंयुक्तरूपसेरेलनिजीकरणकेखिलाफजमकरसरकारकेखिलाफहल्लाबोला।शाखासचिववीरेंद्रकुमारयादवएवंशक्तिधरप्रसादनेकहाकिडॉक्टरविवेकडेरायकमेटीकीसिफारिशकोधीरेधीरेमोदीसरकारलागूकरदेशकेमानचित्रसेरेलकोमिटानाचाहरहीहै।मोदीसरकारकीकोशिशोंकोकभीमेंसयूनियनपूरानहींहोनेदेगी,चाहेइसकेलिएयूनियनकोकोईभीकुर्बानीक्योंनादेनापड़े,हमपीछेहटनेवालेनहींहैं।शाखासचिववीरेंद्रयादवनेकहाकिन्यूपेंशननीतिकोरदकरपुरानीपेंशननीतिकोबहालकरनेएवंरेलवेमेंएफडीआईसमाप्तकिएबिनारेलऔररेलकर्मीकाविकाससंभवनहींहै।धरनाकोसमर्थनदेतेहुएएससीएसटीएसोसिएशनकेचांदसीपासवाननेकहाकिसरकाररेलकर्मियोंकीजायजमांगोंकीअनदेखीकररहीहै।सातवांवेतनआयोगकीविसंगतियोंकोदूरकरनेकेप्रतिभीसरकारगंभीरनहींहै।सेवाअवकाशप्राप्तरेलकर्मियोंकीफिरसेनियुक्तिकरनेकेबदलेभारतीयरेलसेप्रशिक्षितएक्टअप्रेंटिसकीबहालीजबतकशुरूनहींकीजातीहै,तबतकहमयूनियननेताकिसीभीकीमतपरचुपनहींबैठनेवालेहैं।धरनाकेबादसातसूत्रीकाज्ञापनयूनियननेताओंनेमुख्यकारखानाप्रबंधककोसौंपा।धरनामेंरामनगीनापासवान,अनिलप्रसादयादव,गोपालजी,बहाउद्दीन,ओमप्रकाशगुप्ता,चंदनपासवान,अविनाशचंद्रशर्मा,किशोरयादव,मनोजकुमार,राजेंद्रप्रसादयादव,दीपककुमारसिन्हा,युगलकिशोरयादव,अजयचंद्रा,विपिनकुमारसिंह,संजयकुमारसिंह,रविद्रयादव,ललनकुमार,रंजीतकुमारसिंह,नवीनकुमार,सुरेंद्रप्रसादयादव,शिशिरकुमार,केअलावेदर्जनोंएक्टअप्रेंटिसप्रशिक्षितयुवाशामिलथे।