साउथ दिल्ली में कोविड-19 जांच के नाम पर फर्जीवाड़ा, डॉक्टर और कंपाउंडर गिरफ्तार

नईदिल्लीराष्ट्रीयराजधानीदिल्लीमेंकम-से-कम75लोगएकजालसाजडॉक्टरकाशिकारहोगए।साउथदिल्लीकेइसडॉक्टरनेलोगोंकोजांचकेलिएलैबकेबाहरलाइनसेछुटकारादिलानेकावादाकियाथा।इसचक्करमेंलोगडॉक्टरकेचंगुलमेंफंसगए।हालांकि,फर्जीवाड़ेकाभेदखुलगयाऔर34वर्षीयडॉक्टरकुशबिहारीपराशरअभीपुलिसगिरफ्तमेंहै।वहपिछलेढाईमहीनेसेयहफर्जीवाड़ाकररहाथाजिसमेंदोकंपाउंडरोंअमितऔरसोनूउसकीमददकररहेथे।अमितभीगिरफ्तारहोचुकाहै।एकस्पेलिंगमिस्टेकऔरखुलगईपोल-पट्टीखुदकोडॉक्टरइनमेडिसीन(MD)डिग्रीधारीहोनेकादावाकरनेवालेपराशरनेप्रतिष्ठितप्रयोगशालाओंमेंइस्तेमालहोनेवालेकोविड-19टेस्टकिटजैसेदिखनेवालेकिटउपलब्धकरलिए।वोहरव्यक्तिसे2,400रुपयेलेकरफर्जीरिपोर्टदेरहाथा।लेकिनएकमरीजकेस्पेलिंगमेंगलतीनेउसकासारापोलखुलगया।हुआयहकिअस्पतालोंकोनर्सिंगस्टाफमुहैयाकरानेवालीएकप्लेसमेंटएजेंसीने30अगस्तकोदोअभ्यर्थियोंसेकोविड-19कीजांचकरवानेकोकहा।उनदोनोंनेपराशरकीक्लिनिककोअपनेनमूनेदेदिए।पराशरनेदोनोंकोसाउथदिल्लीकेएकप्रतिष्ठितलैबकीतरफसेफर्जीरिपोर्टबनाकरदोनोंकोवॉट्सऐपकरदिया।जबनाममेंस्पेलिंगकीगलतीमिलीतोव्यक्तिपराशरकेपासनजाकरसीधेवहलैबपहुंचगयाजिसकेनामसेफर्जीरिपोर्टउसेमिलीथी।जबलैबनेरिकॉर्डखंगालातोपताचलाकिइसनामकेकिसीव्यक्तिकेनमूनेकीजांचकभीहुईहीनहीं।फोटोएडिंटिंगकरबनातेथेरिपोर्टसाउथदिल्लीकेडीसीपीअतुलठाकुरनेबतायाकिलैबनेअपनेनामपरचलरहेफर्जीवाड़ेकेखिलाफहौजखासपुलिसस्टेशनमेंरिपोर्टदर्जकरवादी।उन्होंनेकहा,'एफआईआररजिस्टरकरजांचकीगई।'पुलिसनेबतायाकिजबकोईव्यक्तिअपनीजांचदेनेपराशरकीक्लिनिकपरआताथातोवहांकंपाउंडरसोनूइसबातपरगौरकरताकिउसेबुखार,खांसीजैसेकोविड-19केलक्षणतोनहींहैं।जिनमेंयेलक्षणमिलते,उनकीरिपोर्टपॉजिटिवदेदीजातीऔरजिनमेंकोईलक्षणनहींहोता,उनकीनेगेटिवरिपोर्टबनादीजाती।वोजमाकिएगएसैंपल्सयूंहीफेंकदेतेऔरफोटोएडिंटिंगकरकेरिपोर्टबनादियाकरते।वोइतनीबारीकीसेरिपोर्टतैयारकरतेकिअसलीऔरनकलीमेंअंतरकरनामुश्किलहोजाए।पुलिसनेकहाकिआगेकीजांचजारीहै।क्योंकररहाथाफर्जीवाड़ा,पराशरनेबतायाकुशबिहारीपराशरनेपुलिसगिरफ्तमेंआनेकेबादकहाकिवोमालवीयनगरमेंरहताहै।उसकेपिताराजस्थानकेकरौलीमेंमेडिकलसुपरिंटेंडेंटहैं।उसेअपनीगर्भवतीपत्नीकीदेखभालऔरकारकीईएमआईभरनेकेलिएपैसेकीजरूरतथी,इसलिएवोफर्जीकोविडरिपोर्टकेनामपरलोगोंकोठगनेलगा।पराशरनेअपनीप्रैक्टिसस्टार्टकरनेसेपहलेएकछोटेअस्पतालमेंअसिस्टेंटकार्डियोलॉजिस्टकेरूपमेंनौकरीकीथी।उसनेकहाकि2012मेंउसनेरूसकीयूनिवर्सिटीसेमेडिकलडिग्रीलीथी।पुलिसउसकेदावोंकीजांचकररहीहै।पुलिसकोशकहैकिइसरैकेटसेऔरलोगजुड़ेहोसकतेहैं।