श्रीराम महायज्ञ के लिए निकाली कलश यात्रा

कुशीनगर:विकासखंडमोतीचककेसितुहियागांवमेंसोमवारसेशुरूहुएनौदिवसीयश्रीराममहायज्ञकेलिएश्रद्धालुओंनेकलशयात्रानिकाली।यज्ञस्थलसेनिकालीगईयात्रामेंशामिलश्रद्धालुबेदूपार,लोहझार,खोट्ठाचौराहा,बरवापोखरभिडाकाभ्रमणकरतेहुएसोढ़रागांवकेसमीपबड़ीनहरपरपहुंचे।

आचार्यपवनमिश्रनेमंत्रोच्चारकेबीचकलशमेंजलभरवाया।वहांसेकलशलेकरकन्याएंयज्ञस्थलपरपहुंचीतोआचार्योंनेमंडपमेंस्थापितकरायागया।यात्रामेंमदनसिंह,श्रवणकुमार,अच्छेलाल,रामअशीषयादव,श्रीपतिगुप्ता,चंद्रभानगुप्ता,प्रधानकेपतिगौतमसिंह,निखिलसिंह,रामाश्रययादव,नर्वदायादव,वीरेंद्रयादव,महेंद्रगुप्ता,वीरेंद्रगोंड़आदिशामिलरहे।खोट्ठाबाजारसंवाददाताकेअनुसारबरवाबावनगांवमेंनवनिर्मितहनुमानमंदिरमेंमूर्तिकीप्राणप्रतिष्ठाकेलिएधूमधामसेशोभायात्रानिकालीगई।तुर्कडीहा,सेमरहिया,सिहुलिया,चुरामनचक,खोट्ठासमेतअन्यगांवोंकाभ्रमणकरतेहुएश्रद्धालुबरवापोखराकेघाटपरपहुंचे।वहांकन्याओंनेकलशमेंजलभरा।पवनउपाध्याय,अभिषेकत्रिपाठी,विनोदउपाध्याय,पवनसिंहआदिमौजूदरहे।

विश्वासपरटिकाहोताहैदाम्पत्यजीवन:बालकदास

कसयानगरकेरामजानकीमंदिरमठपरचलरहेश्रीरामकथाकेदूसरेदिनसोमवारकोकथावाचकबालकदासनेसतीमोहप्रसंगकेमाध्यमसेपति-पत्नीकेसंबंधोंकावर्णनकिया।कहाकिदाम्पत्यजीवनमेंएकदूसरेपरविश्वासआवश्यकहै।दाम्पत्यजीवनकीबुनियादहीविश्वासपरटिकीहोतीहै।विश्वासटूटातोसंबंधबिखरजाएगा।

कथावाचकनेभगवानशिवऔरमातापार्वतीकाउल्लेखकरतेहुएकहाकियदिमांपार्वतीनेभगवानशिवकीबातमानीहोतींतोउन्हेंनतोसतीहोनापड़ताऔरनहीपतिकावियोगसहनापड़ता।उन्होंनेकहाकिभगवानशिवऔरमर्यादापुरुषोत्तमरामएकदूसरेकेपर्यायहैं।अगररामकोपानाहैतोशिवकोपानाहोगा।शिवकोपानेकेलिएरामकीअराधनाकरनीहोगी।

कथाकाशुभारंभयजमानअरुणपांडेयवउनकीपत्नीअंकितापांडेयनेकिया।महंतत्रिभुवनशरणदास,पुजारीदेवनारायणशरण,बालमुकुंदशरणदास,विष्णुशरणदास,डा.हरिओममिश्र,इंद्रमिश्र,सुरेशगुप्त,मणिप्रकाशयादव,राहुलयादव,राकेशकुशवाहा,निशांतसिंह,संध्या,पुनीतादेवी,गायत्रीदेवी,गुड्डीमद्देशिया,इंद्रमिश्रआदिउपस्थितरहे।

मांसरस्वतीकीप्रतिमाकाहुआविसर्जन

सोमवारकोक्षेत्रकेअजयनगर,धुरियाकोट,धुरियाहाता,धुरियाइमिलिया,अहिरौलीहनुमानसिंहसहितदर्जनोंगांवोंमेंस्थापितमांसरस्वतीकीप्रतिमाकाविसर्जनगाजे-बाजेकेसाथकियागया।इसदौरानमाताकेभजनोंपरनाचतेगातेभक्तोंनेजयकारेकेसाथसेवरहीस्थितशिवाघाटवतिवारीपट्टीघाटपरनदीमेंप्रतिमाकाविसर्जनकिया।