संतों के बताए मार्ग पर चलने से कल्याण संभव : प्रमोद बाबा

पूर्णिया।अभयरामचकलापंचायतकेविनोबाग्राममेंशुक्रवारसेप्रारंभसंतमतसत्संगकेदोदिवसीयआयोजनमेंपहुंचेसंतमहात्माओंकास्वागतकियागया।श्रद्धालुओं,ग्रामीणोंतथास्कूलीबच्चोंनेबैंडबाजेकेसाथसंतमहात्माओंकीअगुआईकीतथाविनोबाग्रामचौकसेपैदलआयोजनस्थलतकपहुंचे।इसदौरानश्रीसदगुरुमहाराजकेजयकारेसेआसपासकाइलाकाभक्तिमयहोगया।भागलपुरसेस्वामीप्रमोदबाबा,स्वामीजयकुमारबाबा,आलमनगरसेस्वामीरामावतारबाबा,सिंहेश्वरसेस्वामीशिवानंदबाबातथासाहुगढमधेपुरासेस्वामीप्रेमबाबाकाआगमनहुआ।आयोजनसमितिकेसेवानिवृत्तअभियंतासदानंदयादव,अभिनंदनयादव,नंदनयादव,दिनेशयादव,उमेशयादव,रमेशयादवसहितस्थानीयलोगोंनेसंतमहात्माओंकामालापहनाकरस्वागतकिया।स्वामीप्रमोदबाबानेअपनेप्रवचनमेंकहाकिसंतोंकेबताएमार्गपरचलनेसेहीमानवकल्याणसंभवहैऔरमोक्षकामार्गभीमनकेभीतरछुपाहुआहै,केवलउसेपहचाननेकीजरूरतहै।अपराह्न1बजेसेआयोजितसत्संगकेदूसरेसत्रमेंसंतमहात्माओंनेसादाजीवन,उच्चविचारकासंदेशदियातथामानवजीवनकोसुंदरबनानेकीनसीहतदी।कहाकिआपकीसरलता,विनम्रताएवंव्यवहारकुशलतास्वयंआपकोलोगोंकीनजरोंसेऊपरउठादेगी।लोगोंसेमहर्षिमेंहींपरमहंसजीमहाराजकेबताएमागरेंपरचलनेकीअपीलकी।आयोजनकोसफलबनानेमेंस्थानीयसत्संगसमितिकेसदस्यों,क्षेत्रीयधर्मप्रेमियोंकासहयोगमिलरहाहै।आजसमारोहकादूसरादिवसहै।