सरकार पहले की कह चुकी है कि इस परियोजना के लिए बांध की उंचाई के विषय पर कोई समझौता नहीं होगा । इस परियोजना से 70 लाख लोगों को फायदा होगा ।

उमाभारतीनेहालहीमेंकहाथाकिनदीजोड़ोपरियोजनाकोराज्योंकेसाथसहमतिकेआधारपरआगेबढ़ायाजायेगा।सरकारीआकलनमेंकहागयाहैकिइससेकरीब7हजारलोगप्रभावितहोंगेऔरवेदूसरीजगहजानेकोतैयारहैक्योंकिवेजिसक्षेत्रमेंरहरहेहैं,वहअधिसूचितक्षेत्रहैऔरकईसमस्याएंउनकेसामनेआतीहैं।केनबेतवानदीजोडोपरियोजनाइसलिहाजसेमहत्वपूर्णहैकिअगरयहप्रयोगसफलरहातोदेशकीविभिन्ननदियोंकोआपसमेंजोड़नेकी30योजनाओंकासपनाआंखखोलनेलगेगा।अनुमानलगायागयाहैकिनदीजोड़ोयोजनाकेपूराहोनेेपर25.5लाखहेक्टेयरक्षेत्र:17लाखहेक्टेयरहिमालयक्षेत्रमेंऔर8.5लाखहेक्टेयरदक्षिणभारतमें:मेंसूखेकाअसरकमहोगा।बहरहाल,मंत्रालयकेएकअधिकारीनेकहा,नदियोंकोआपसमेंजोड़नेकेविषयपरएकउच्चस्तरीयबैठकबुलाईगईथीजिसमेंइसकेविभिन्नआयामोंएवंइसदिशामेंहुएकामकीप्रगतिपरविचारकियागया।इसकेतहतदमनगंगापिंजाललिंककेसाथताप्तीनर्मदालिंकपरभीकामकोआगेबढायागयाहै।साथहीपंचेश्वरसारदालिंकपरभीकामकियाजारहाहै।