सरकारी अस्पताल में मुफ्त होती है जांच, प्राइवेट लैब में 14 सौ में करा रहे टेस्ट

पटनामेंस्वास्थ्यविभागकाबड़ाखेलचलरहाहै।प्राइवेटलैबकोलाभपहुंचानेकेलिएसरकारीअस्पतालोंमेंडेंगूकीजांचठपहै।शहरीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रोंपरमुफ्तमेंहोनेवालीजांचकेलिएप्राइवेटलैबको1400रुपएदेनापड़रहाहै।राज्यस्वास्थ्यसमितिनेएकअक्टूबरकोआदेशजारीकरडेंगूकीजांचकिटखरीदकाआदेशदियाथा,लेकिनडेढ़माहबादभीफाइलआगेनहींबढ़पाई।मरीजोंकेसाथहोरहेइसखेलमेंबिहारकाहेल्थसिस्टमपूरीतरहसेफेलहै।

पटनामेंएकदिनमें20हजारजांच

पटनामेंडेंगूकाइतनाखौफहैकिडॉक्टरभीलक्षणमिलतेडेंगूकीजांचकरारहेहैं।सरकारीसेलेकरप्राइवेटअस्पतालोंमेंडेंगूकीजांचकादायराबढ़गयाहै।पटनामेंप्राइवेटलैबमेंडेंगूकेजांचकेआंकड़ोंकीबातकरेंतोएकलैबएकदिनमेंकमसेकम10जांचकररहाहै।पटनामेंजांचकाएवरेज14सौरुपएकाहैऔरपटनामें3हजारसेअधिकपैथोलॉजीहै।ऐसेमेंडेढ़माहमेंसरकारीअस्पतालोंमेंडेंगूजांचकिटनहींहोनेसेकारोबारकाअंदाजालगायाजासकताहै।सरकारकीमंशासभीशहरीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रोंपरडेंगूजांचकीहै,लेकिनविभागकीमनमानीसेप्राइवेटलैबकीजांचजेबपरभारीपड़रहीहै।

डेढ़माहमेंनहींहोपाईएकभीकिटकीखरीद

राज्यस्वास्थ्यसमितिकेकार्यपालकनिदेशकसंजयकुमारसिंहने1अक्टूबर2021कोराज्यकेसभीसिविलसर्जनकोडेंगूऔरचिकनगुनियाकीरोकथामकेलिएजांचकिटखरीदकाआदेशदियाथा।इसआदेशकेमुताबिकपटनाके25शहरीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रोंपरडेंगूकीजांचकेलिएकिटखरीदाजानाथा,लेकिनसिविलसर्जनकीमनमानीसेआदेशकेडेढ़माहबादभीएकभीशहरीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रकेलिएएकभीजांचकिटनहींखरीदीगई।पटनामें25शहरीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रपरजांचठपहैऔरमरीजोंकोप्राइवेटलैबमेंजांचकरानीपड़रहीहै।

2500बॉक्सजांचकिटकीफाइलवापस

पटनाकीशहरीस्वास्थ्यसलाहकारनेहाकेमुताबिकराज्यस्वास्थ्यसमितिकेआदेशकेबादहीडेंगूकीजांचकिट,खरीदकेलिएफाइलतैयारकरसिविलसर्जनसेडिमांडकीगईथी।इसमें2500बॉक्सडेंगूजांचकिटकीडिमांडकीगईथी,एकबॉक्समें10जांचकिटहोताहै।एकबॉक्ससे10लोगोंकीजांचहोजातीऔर2500किटसेहरशहरीस्वास्थ्यकेंद्रोंपरजांचमेंकोईबाधानहींआती,लेकिनसिविलसर्जननेजांचकिटकोअधिकबतातेहुएफाइलवापसकरदिया।फिर25किटकीडिमांडबनाकरफाइलसिविलसर्जनकार्यालयकोभेजदीगईहैलेकिनअभीतकइसकीस्वीकृतहीनहींहोपाईहै।अबसवालयहहैकिडेंगूकासीजनखत्महोनेकेबादजांचकिटआनेसेभीमरीजोंकोक्यालाभहोगा।

स्वास्थ्यविभागसेजुड़ेलोगोंकाकहनाहैकिसाराखेलप्राइवेटपैथोलॉजीकीकमाईकाहै,जोस्वास्थ्यविभागकेअफसरोंकीगठजोड़सेचलरहाहै।अगरअफसरगंभीररहतेतोराज्यस्वास्थ्यसमितिकेआदेशकेबादहीकिटशहरीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रोंपरसप्लाईकरदीजाती।सूत्रोंकीमानेंतोविभागकोएककिट110रूपएमेंमिलजातीहै,लेकिनकिटकीखरीदनहींहोनेसेमरीजको1400रुपएखर्चकरनापड़रहाहै।

सिविलसर्जननेकहाछठकीछुट्‌टीसेहुईदेरी

दैनिकभास्करनेजबपटनाकीसिविलसर्जनडॉक्टरविभाकुमारीसिंहसेबातकीतोउन्होंनेपहलेबतायाकिछठमेंछुट्‌टीकेकारणखरीदनहींहोपाई।डेढ़माहपहलेकेआदेशकाहवालादेकरसवालकरनेपरकहाकिडिमांडमेंआंकलनगलतथा,अबसुधारकरायाजारहाहै।सिविलसर्जनकाकहनाहैकिआजडेंगूकिटमिलजाएगी।