सुप्रीम कोर्ट ने भ्रष्‍टाचार के सभी मामलों को लेकर दिए जरूरी निेर्देश, जानें

नईदिल्ली,प्रेट्र।सुप्रीमकोर्टनेशुक्रवारकोएकमहत्वपूर्णनिर्णयमेंकहाकिभ्रष्टाचारकेसभीमामलोंमेंप्रारंभिकजांचकीजरूरतनहींहै।संज्ञेयअपराधकेसंबंधमेंऔपचारिकयाअनौपचारिककिसीभीप्रकारकीसूचनामुकदमाचलानेकेलिएपर्याप्तहोगी।किसीभीमामलेमेंप्रारंभिकजांचकीजरूरततथ्योंऔरपरिस्थितियोंपरनिर्भरकरेगी।

हाईकोर्टकेफैसलेकोपलटदिया

जस्टिसएल.नागेश्वरराववहेमंतगुप्ताकीपीठनेइसमामलेमें24दिसंबर2018कोहैदराबादहाईकोर्टकीतरफसेसुनाएगएफैसलेकोपलटदिया।हाईकोर्टनेएकपुलिसअधिकारीकेखिलाफआयसेअधिकसंपत्तिकेमामलेमेंशुरूकीगईआपराधिककार्यवाहीकोरदकरदियाथा,क्योंकिरिपोर्टदर्जकरनेसेपहलेप्रारंभिकजांचनहींकीगईथी।

प्रारंभिकजांचकाफैसलासभीमामलोंकेलिएजरूरीनहीं

तेलंगानासरकारनेहाईकोर्टकेफैसलेकोसुप्रीमकोर्टमेंचुनौतीदीथी।राज्यसरकारकीअपीलकोस्वीकारकरतेहुएशीर्षअदालतनेकहाकिकोईतयप्रारूपयाशैलीनहींहै,जिसकेतहतप्रारंभिकजांचकराईजाए।मामलादर्जकरनेसेपहलेजांचजरूरीहैयानहीं,यहप्रत्येकमुकदमेकीप्रकृतिऔरसीमापरनिर्भरकरेगा।कोर्टनेकहा,'इसलिए,हममानतेहैंकिललिताकुमारीबनामउत्तरप्रदेशसरकारमामलेमेंप्रारंभिकजांचकाफैसला(2014)भ्रष्टाचारकेसभीमामलोंकेलिएअनिवार्यनहींहै।'

प्रारंभिकजांचकीजरूरततथ्योंऔरमहत्वपरनिर्भर

पीठनेकहा,'कोर्टकईबारकहचुकाहैकिकिसीभीमामलेमेंप्रारंभिकजांचकीजरूरततथ्योंऔरमहत्वपरनिर्भरकरेगी।ऐसाकोईमानकनहींकिकिसमामलेमेंइसप्रकारकीजांचकेलिएकहाजायाऔरकिसमेंनहीं,इसलिएसंज्ञेयअपराधकेबारेमेंमिलीकिसीभीप्रकारकीसूचनासेअगरअधिकारीसंतुष्टहैतोरिपोर्टदर्जकरसकताहै।'

शीर्षअदालतनेअधिकारीकेतर्ककोखारिजकरदियाकिवर्ष2014मेंसुप्रीमकोर्टनेफैसलादियाथाकिभ्रष्टाचारकेमामलेमेंरिपोर्टदर्जकरनेसेपहलेप्रारंभिकजांचजरूरीहै।उसनेकहाकिवर्ष2014मेंकानूनकेदुरुपयोगकोरोकनेकेलिएमामलेमेंप्रारंभिकजांचकाआदेशदियागयाथा।