तलाक के लिए 12 साल चली कोर्ट में जंग, आखिरकार पत्नी को घर लेकर चला गया पति, पढ़ें Happy Ending वाली ये कहानी

महाराष्ट्रमेंएककपल12सालतककोर्टमेंतलाककेलिएलड़ाईलड़तारहा।पति-पत्नीकीतरफसेसालोंतकखूबदलीलेंरखीगईं,वकीलोंनेलंबी-लंबीजिरहकी।आखिरकार12सालबादपति,पत्नीकोलेकरअपनेघरचलागया।

घटनामहाराष्ट्रकीराजधानीमुम्बईकीहै।एकदशकसेचलीआरहीलड़ाईकातबसुखदअंतहुआ,जबकोर्टकेआदेशकेबादपतिने12सालकीलंबी‘कैद’केबादपत्नीकोएकमानसिकअस्पतालसेनिकालकरवापसअपनेघरलेकरचलागया।

टीओआईकेअनुसारबांद्राकीफैमिलीकोर्टनेदिसंबरमेंयहभीनोटकियाकिअस्पतालसेमहिलाकोसातसालपहलेछुट्टीमिलगईथी,लेकिनउसेउसकापतिघरलेजानेकेलिएतैयारनहींथा,इसलिएउसेवहींरहनापड़ा।इसदौरानमहिलाकोकाफीसंघर्षभीकरनापड़ा।

इसमामलेमेंदंपतिकीशादी1993मेंहुईथी।पत्नीकेमानसिकस्वास्थ्यकेबारेमेंपतिकेआवेदनपर,2009मेंएकमेट्रोपॉलिटनमजिस्ट्रेटनेएक‘रिसेप्शनऑर्डर’पारितकिया,जिसकेआधारपरउसेमानसिकअस्पतालभेजदियागया।2012में,उसकेपतिने“क्रूरताऔरमनकीअस्वस्थता”केआधारपरतलाककेलिएअर्जीदी।न्यायाधीशचौहाननेअक्टूबर2021मेंपहलीबारमामलेकीसुनवाईकी।

अदालतनेकहाकि2014मेंचिकित्साअधीक्षकनेअधिनियमकेअनुपालनमेंमहिलाकेस्वस्थहोनेपरउसेछुट्टीदेनेकाआदेशदियाथा।पत्नीऔरएकनर्सकोघरभेजदियागया,लेकिनपतिने“ससुरालमेंरखनेसेइनकारकरदिया”औरउसेफिरसेमानसिकअस्पतालमेंरखागया।

अदालतनेकहा-“यहएकबड़ाउदाहरणहैकिकैसेएकरिसेप्शनआदेशकादुरुपयोगकियागयाथा,जोसचमुचवैवाहिकघरसेपत्नीकोबाहरनिकालनेकेलिएकियागयाथाऔरउसकेबादउसकेपुन:प्रवेशकोप्रतिबंधितकरदियागया।”

पतिनेशुरूमेंकहाकिवहउसेएकआश्रयगृहमेंरखेगाऔरसाराखर्चवहनकरेगा।लेकिन27नवंबरकोजबअदालतनेउसेतत्कालबरीकरनेकानिर्देशदियातोउसनेकहाकिवहउसेघरलेजाएग।इसतरहसेपत्नी12सालबादवापसअपनेपतिकेसाथससुरालपहुंची।