वेबसाइट हैक कर देश भर में बनाए जा रहे थे जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र

बलवानशर्मा,नारनौल:स्वास्थ्यविभागकीवेबसाइटहैककरजन्मएवंमृत्युपंजीकरणप्रमाणपत्रबनानेकेमामलेमेंजिलापुलिसकोबड़ीसफलताहाथलगीहै।पुलिसनेइसमामलेमेंसाइटहैकरसहितछहआरोपितोंकोगिरफ्तारकरउनसेकंप्यूटर,लैपटाप,मोबाइलफोनवअन्यउपकरणबरामदकरलिएहैं।पुलिसमामलेकीजांचपड़तालकररहीहै।अभीतककीजांचमेंपताचलाहैकिहैकर्सउतरप्रदेश,बिहार,झारखंड,पंजाब,जम्मू-कश्मीरऔरहरियाणासहितदेशकेविभिन्नराज्योंमेंजन्म-मृत्युपंजीकरणप्रमाणपत्रबनानेकाअवैधधंधाकरतेथे।प्रमाणपत्रबनानेकीएवजमें1000रुपयेसे1200रुपयेतकलेलेतेथे।देशभरमेंइसतरहकेहजारोंप्रमाणपत्रबनाएजाचुकेथे।इनसाइबरबदमाशोंकाजालपूरेदेशमेंबड़ेनेटवर्कपरफैलाहुआथा।मुख्यसरगनावाराणसीकारहनेवालाहैऔरउसनेवेबसाइटहैककरखुदकोनेशनलएडमिनबनायाहुआथा।इससेवहहरराज्यकेगिरोहकेसदस्योंकोपैसोंकेबदलेमेंलागइनआइडीवपासवर्डमुहैयाकरवाताथा।लागइनआइडीमिलनेकेबादसंबंधितराज्यकेसदस्यअपने-अपनेएरियामेंप्रमाणपत्रबनानेकाकारोबारकरनेमेंजुटजातेथे।जांचमेंयहभीपतालगाहैकिगिरफ्तारकिएगएआरोपितसीएससीसेंटरसंचालनकाकार्यभीकरतेथेऔरइसीवजहसेसरकारीवेबसाइटोंकीसीआरएसआइडीकीखामियोंसेपरिचितथे।इसकाफायदाउठाकरउन्होंनेवेबसाइटकोहैककरलियाथा।

साइटहैकहोनेकापताअगस्त2021मेंचलाथा,जबमहेंद्रगढ़केनागरिकअस्पतालकीरजिस्ट्रारनेजन्मएवंमृत्युरजिस्ट्रेशनकीएप्लीकेशनकेनिपटारेकेलिएसीआरएसपोर्टलपरआइडीकोलागइनकिया।इसदौरानउनकेस्क्रीनपरयूजरआइडीपासवर्डगलतहोनेकामैसेजआया।उन्होंनेजांचकीतोपताचलाकिउनकीलागइनआइडीहैककर147जन्मऔर21मृत्युप्रमाणपत्रबनालिएगएथे।इसकीजांचकेलिएएसपीचंद्रमोहननेएएसपीसिद्धांतजैनकीअध्यक्षतामेंएसआइटीगठितकी।इसटीमनेमामलेकीतहतकजानेकेलिएकड़ीमेहनतकीऔरतकनीककीसहायतासेसाइबरबदमाशोंतकपहुंचनेमेंकामयाबीहासिलकरली।इसमामलेमेंएसआइटीकीटीमनेकार्रवाईकरतेहुएपटौदी,कैथल,जींद,बरेली,आगरा,लखनऊ,वाराणसीअलग-अलगजगहसीएससीसेंटरचलारहेगिरोहकेनेटवर्ककापतालगायाहै।जिनसेबरामदउपकरणोंकीजांचकरनेपरहजारोंजन्मवमृत्युप्रमाणपत्रोंकारिकार्डमिला।गिरोहकेसरगनाजिसनेसाइटहैककरखुदकोनेशनलएडमिनबनायाहुआथा,जिसेएसआइटीनेछापामारकरबनारससेगिरफ्तारकिया।जिससेबरामदउपकरणोंकीजांचकरनेपरउतरप्रदेश,झारखंड,बिहार,जम्मू-कश्मीर,पंजाबसहितअन्यराज्योंकेप्रमाणपत्रोंकारिकार्डमिलाहै।इससेखुलासाहुआहैकिइसगिरोहकानेटवर्कपूरेदेशमेंफैलाहुआहै।इससेस्वास्थ्यविभागकेउच्चस्तरपरबैठेअधिकारियोंकीकार्यप्रणालीपरभीसवालखड़ेहोतेहैंआखिरइतनेगंभीरडाक्यूमेंटबनानेवालीवेबसाइटकासिक्योरिटीआडिटक्योंनहींकरवायाजारहाहै।

घुसपैठियोंकोरोकनेकेलिएकेंद्रसरकारएनआरसी(राष्ट्रीयनागरिकतारजिस्टर)औरसीएएजैसेकानूनलारहीहै,वहींयदिस्वास्थ्यविभागकीवेबसाइटहैककरकिसीभीव्यक्तिकेइसप्रकारजन्मप्रमाणपत्रबनादिएगएतोकिसीभीदेशकाआतंकवादीभीमहजएकहजाररुपयेखर्चकरआसानीसेजन्मप्रमाणपत्रबनवालेगा।इसप्रमाणपत्रकेआधारपरआधारकार्डसेलेकरराशनकार्ड,पासपोर्टसहितरिहायशप्रमाणपत्रभीआसानीसेबनाएजासकतेहैं।

अभीतकइसमामलेकीजांचआठवेंलेवलतकपहुंचचुकीहै।इसमामलेमेंअभीकईऔरगिरफ्तारियांहोंगी।जांचपूरीहोनेकेबादसर्टिफिकेटकापूराब्योरासंबंधितमंत्रालयकोभेजाजाएगा,ताकिगिरोहद्वाराबनाएगएप्रमाणपत्रोंकोरदकरवायाजासके।

महेंद्रगढ़एटनारनौल।