विभागीय उदासीनता से बेहाल है स्वास्थ्य उपकेंद्र

संवादसूत्र,किशनपुर(सुपौल):सरकारस्वास्थ्यसेवाओंमेंसुधारकालाखदावाकरेलेकिनग्रामीणक्षेत्रोंमेंइसकीहकीकतकुछऔरहीबयांकरतीहै।प्रखंडअंतर्गतमेहासिमरपंचायतकेसिगिआवनगांवसुदूरग्रामीणक्षेत्रोंमेंइनदिनोंस्वास्थ्यसेवाबदहालहै।इसगांवमेंबनेस्वास्थ्यउपकेन्द्रकेस्वास्थ्यसंरचनाकाहालबेहालहै।यहअलगबातहैकिजिलामुख्यालयमेंथोड़ीचमकदमकनजरआतीहैपरग्रामीणइलाकोंकीस्थितिजसकीतसहै।नतीजायहहैकिइसइलाकेमेंग्रामीणमहिलाएंकुपोषणसहितलिकोरिया,कमरएवंपेटदर्दसहितपेटसंबंधीविभिन्नरोगोंकाशिकारहोकरअसमयकालकेगालमेंजानेकोअभिशप्तहैं।ग्रामीणचिकित्साव्यवस्थाअर्सोंसेजिनखामियोंऔरविसंगतियोंकीशिकारहैउन्हेंकबऔरकैसेदूरकियाजाएगायहएकगंभीरसमस्याहै।यहउपस्वास्थ्यकेन्द्रअपनेअस्तित्वकोबनायेरखनेकेलिएउद्धारककीबाटजोहरहाहै।यहांसुविधाओंकाघोरअभावहै।इसकासीधाअसरगरीबपरिवारोंपरपड़ताहै।ऐसानहींहैकियहांस्वास्थ्यविभागकेद्वाराभवनजमीनवसंसाधनकीकमीहै।सरकारकेद्वाराबनाएगएभवनचकाचकहैं,कमीहैतोसिर्फएकडाक्टरकीजिसकेचलतेग्रामीणइलाकेकेलोगोंकोस्वास्थ्यसुविधालाभनहींमिलपाताहै।स्थानीयग्रामीणकीमानेंतोइसस्वास्थ्यकेंद्रकानिर्माणवर्ष1990मेंहुआथाउससमययहांडाक्टरवनर्सभीरहतीथीऔरआसपासकेलोगोंकाइलाजहोताथा।लेकिनयहमात्रपांचवर्षोतकहीचलपायाहै।जिसकेबादधीरे-धीरेयहकेंद्रसिर्फनामभरकारहगयाऔरलोगोंकेद्वाराअतिक्रमणभीकरलियागयाहै।

क्याकहतेहैंपीएचसीप्रभारी

पीएचसीप्रभारीडा.अभिषेककुमारसिन्हानेबतायाकिउसकेंद्रकोव्यवस्थितकियागयाहैऔरदोएएनएममेंएकएएनएमकीड्यूटीभीलगाईगईहै।वहींएकएएनएमकोटीकाकरणकेलिएदियागयाहै।जहांतकडाक्टरकीबातहैतोपीएचसीमेंहीडाक्टरकीकमीहैतोवहांकहांसेदेंगे।