West Champaran: वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के संरक्षित क्षेत्र में खनन, नदियों की धारा मुड़ने का खतरा

बगहा(पश्चिमचंपारण),जासं।वाल्मीकिटाइगररिजर्व(वीटीआर)केसंरक्षितक्षेत्रऔरआसपाससेगुजरनेवालीकरीबएकदर्जनपहाड़ीनदियोंकेक्षेत्रमेंबालूऔरपत्थरकाखननहोरहाहै।इससेनदीक्षेत्रकेआसपासकटानवखननहोनेसेइननदियोंकीधारामुडऩेकाखतराहै।जंगलकेसंरक्षितक्षेत्रकेदायरेमेंतरूअनवा,भपसा,गोनौली,सोनगढ़वा,बरवा,वाल्मीकिनगर,गोबद्र्धनासमेतअन्यइलाकोंसेप्रतिदिनकईट्रेलरबालूऔरपत्थरकाखननवढुलाईहोरहीहै।बालूवपत्थरनिकालेजानेसेनदियोंकीधाराहरसालमुड़जातीहै।इससेवीटीआरक्षेत्रभीप्रभावितहोसकताहै।

चिउटाहां,मदनपुर,वाल्मीकिनगर,गोनौली,हरनाटांडकेवनक्षेत्रोंकेघनेजंगलोंमेंखननकरबालूवपत्थरनिकालाजारहा।जबकिजंगलकेतीनकिमीकेअंदरमेंसरकारनेभीविभागकोआदेशदियाहैकिकिसीप्रकारखनननहींहोनीचाहिए।फिरभीअधिकारियोंकीआंखोंमेंधूलझोंकखननकरबालूवपत्थरनिकालनेमेंजुटेहुएहैं।भपसा,सिंंगाही,भलुई,कापन,मनोरसमेतगंडकनदीकेतटवर्तीइलाकोंसेहोरहेखननपररोककेलिएलोगोंनेजिलाधिकारीकोपत्रलिखकरकार्रवाईकीमांगकीहै।पत्रकेआलोकमेंजिलाधिकारीनेएसडीएमकोकार्रवाईकानिर्देशदियाहै।

हरसालबरसातमेंबदलतीहैधारा

बरसातकेदिनोंमेंजबनेपालकेपहाड़ीवतराईइलाकोंमेंबारिशहोतीहैतोबरसातकापानीपहाड़ोंसेउतरकरजंगलीनदियोंमेंप्रवेशकरजाताहै।जलस्तरबढऩेकेबादखननकेकारणनदियोंकीधारापरबुराप्रभावपड़ताहै।इसकारणवनसंपदाओंसमेतजानवरोंपरभीखतराउत्पन्नहोजाताहै।जंगलकेकईपेड़भूअपरदनकेकारणबहकरजंगलसेबाहरआजातेहैं।खरगोश,सांप,गैंडासमेतकईअन्यवन्यजीवभीबाढ़केपानीमेंबहजातेहैं।

इसबारेमेंएसडीएमशेखरआनंदनेकहाकिसंरक्षितक्षेत्रमेंखननकीसूचनामिलरहीहै।जल्दहीटीमगठितकरकठोरतमकार्रवाईहोगी।

यहभीपढ़ें: बॉलीवुडकेभाईजानकोथप्‍पड़जड़नेकादावाकरनेवालेस्‍वामीओमकाब‍िहारकेमधुबनीसेहैगहरानाता

ShattilaEkadashi2021Vrat:षटतिलाएकादशीपरतिलकेदानसेभगवानविष्णुहोतेप्रसन्न,जानेंव्रतकामहत्व

Muzaffarpur:बहूकोसरेआमबेज्जतकरनेसेरोकातोबापनेबेटेकेसीनेमेंउतारदियाखंजर