यहां समस्याएं बेशुमार, मरीज परेशान

देवरिया:विभागीयउदासीनताकेचलतेपांचहजारकीआबादीकेबीचस्थापितप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रतरकुलवाकाअंबारलिएखड़ाहै।यहांहररोजमरीजोंकोपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै।चिकित्सकवस्वास्थ्यकर्मियोंकीलापरवाहीसेमरीजोंकोबेहतरइलाजनहींमिलपारहाहै,जिससेक्षेत्रकेलोगोंमेंनाराजगीहै।

प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रपरप्रसवकाऔसतदरक्षेत्रकेउपकेन्द्रोंसेअधिकहै,लेकिनयहांकाप्रसवकक्षबदसेबदतरहालातमेंहै।फर्शपरलिटाकरगर्भवतीकाप्रसवकरायाजाताहै।प्रसवकक्षकेबाहरबाजारकेव्यापारीएवंअन्यलोगोंद्वाराफेंकेगएकूड़ेकेढ़ेरसेदुर्गंधकेचलतेअबयहांतैनातचिकित्सकोंकर्मचारियोंकारहनादूभरहोगयाहै।यहीनहींकक्षकेबगलमेंकूड़ेकेअंबारकेचलतेबरसातकेदिनोंमेंगंदगीसेभरापानीस्वास्थ्यकेंद्रकेअंदरआनाशुरूहोजाताहै।जिससेनवजातशिशुओंकेसंक्रमणकाखतराबनारहताहै।इसकेलिएप्रभारीचिकित्साअधिकारीद्वाराकईबारबीडीओएवंविकासग्रामप्रधानसेकूड़ाकरकटहटानेकेलिएकहागयाहै,लेकिनउसपरकोईपहलनहींहोती।

प्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रपरकहनेकेलिएआधादर्जनसेअधिककर्मचारीमौजूदहैं,लेकिनसुविधाओंकेअभावमेंयहांरातकोवीरानीछाजातीहै।भयसेकोईचिकित्सकरातकोरहनेकानामनहींलेता।बिजलीतोहैपरपीनेकेलिएपेयजलकीव्यवस्थानहींहै।इंडियामार्कहैंडपंपबहुतदिनोंसेखराबहै।अस्पतालकेकर्मचारीएकछोटेसेप्लास्टिककीटंकीलगाकरकामचलारहेहैं।

अस्पतालकेअंदरलगाएगएबेडभीजर्जरहोचुकेहैं।उसपरबिछाएगद्देऔरचादरदेखनेकेलायकनहींहैं।खिड़कीटूटकरबिखरगईहै।परिसरमेंचिकित्सकवकर्मचारियोंकेआवासभीकामचलाऊहालतमेंहैं।शासनस्तरसेजेएसवाइकेतहतएकलाखअस्सीहजारकासालानाबजटभीस्वास्थ्यकेंद्रकोउपलब्धकरायाजाताहै,लेकिनवहपैसाकहांजाताहै,इससेभीयहांकेकर्मचारीअनभिज्ञहैं।कुर्सी,मेज,बिस्तर,चादर,सहितहाथधोनेकेलिएसाबुनकोमोहताजहै।अस्पतालमेंशौचालयभीनहींहै,जबकिमहिलापुरुषदोनोंसंवर्गकेकर्मचारीतैनातहैं।

प्रभारीप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रतरकुलवाडा.राकेशकुमारसिंहनेबतायाकिगंदगीकेचलतेयहांकार्यकरनाचुनौतीपूर्णहै।समस्याओंसेउच्चाधिकारियोंकोअवगतकरायागयाहै।मरीजोंकोकोईपरेशानीनहो,इसकाध्यानरखाजाताहै।